आईटी से सीधे 21वीं सदी में पहुँचेगा भारत

कानपुरा के लोगों से ओबामा ने कहा

मुंबई| भाषा|
Widgets Magazine
FILE
अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने रविवार को अजमेर के समीप कानपुरा गाँव के लोगों से बातचीत कर यह जाना कि सूचना प्रौद्योगिकी ने किस प्रकार ग्रामीण भारत की जीवनशैली में क्रांतिकारी बदलाव लाया है। उन्होंने कहा कि प्रौद्योगिकी भारत को 21वीं सदी में सीधे पहुँचाने में मददगार साबित होगी।

मुंबई से वीडियो कांफ्रेन्सिंग के जरिये बातचीत में उन्होंने ग्रामीणों से कहा कि भारत 20वीं सदी की धीमी रफ्तार की तुलना में 21वीं सदी में शीघ्रता से सीधे पहुँचने में सक्षम हो सकता है। मुझे पूरा विश्वास है कि आप दुनिया के देशों के लिए एक मॉडल साबित होंगे।

राष्ट्रीय ज्ञान आयोग के चेयरमैन सैम पित्रोदा द्वारा संक्षिप्त परिचय के बाद ओबामा ने ग्रामीणों से बात की और गाँवों में ब्रॉडबैंड के आने से स्वास्थ्य परामर्श, शिक्षा और स्थानीय ई-गर्वनेंस के क्षेत्र में लाभ पर उनके विचारों को जाना।

राष्ट्रपति ने आईटी के जरिये हुई प्रगति पर खुशी जाहिर की। उन्होंने कहा कि यह अच्छी खबर है। अमेरिका में भी हम ऐसी चीज लाने की कोशिश कर रहे हैं। सरकार को जवाबदेह और दक्ष बनाने की दिशा में कोशिश कर रहे हैं।

ग्रामीणों के साथ बातचीत का समन्वय केंद्रीय दूरसंचार और सूचना प्रौद्योगिकी राज्यमंत्री सचिन पायलट ने किया। उन्होंने इस मौके पर कहा कि आईटी केवल सेवाओं के निर्यात का मामला नहीं है बल्कि ग्रामीण भारत में जीवनशैली में बदलाव का भी जरिया है। भारत देश के सभी पंचायतों में 2012 तक ब्रॉडबैंड की पहुँच का लक्ष्य हासिल करना चाहता है। (भाषा)
Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।