सवर्णों के आंदोलन से कांग्रेस और भाजपा भयभीत, अब मनाने की तैयारी

विशेष प्रतिनिधि|
भोपाल। मध्यप्रदेश में एट्रोसिटी एक्ट से नाराज चल रहे सवर्णों को रिझाने के लिए ने बड़ा दांव चला है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा कि पार्टी नाराज सवर्णों को मनाएगी। कमलनाथ ने कहा कि पहले SC/ST कानून का दुरुपयोग होता आया है, इसलिए कांग्रेस सवर्णों की नाराजगी को समझती है।
कमलनाथ ने कहा कि हम चाहते हैं सबके साथ न्याय हो और पार्टी किसी के साथ अन्याय नहीं होने देगी। इतना ही नहीं, कमलनाथ ने कहा कि SC/ST कानून का जहां दुरुपयोग हुआ है, कांग्रेस उसका विरोध करती है।

कमलनाथ का यह बयान ऐसे समय सामने आया है, जब कांग्रेस अब तक एट्रोसिटी एक्ट को लेकर कुछ भी कहने बच रही थी। दूसरी ओर कमलनाथ के इस बयान के बाद बीजेपी की मुश्किल बढ़ गई है। भाजपा ने भी शुरू की सवर्णों को मनाने की योजना पर काम शुरू कर दिया है।

इसके लिए बीजेपी के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री रामलाल एट्रोसिटी एक्ट में संशोधन के विरोध को लेकर पार्टी पदाधिकारियों से फीडबैक लेंगे। चुनाव से पहले पार्टी हर उस रणनीति पर काम कर रही है, जिससे सवर्णों का विरोध कम किया जा सके, वहीं खबर यह भी है कि दिल्ली में हुई भाजपा राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक में भी इस मुद्दे को लेकर चर्चा हुई। पार्टी ने अपने सवर्ण नेताओं को नाराज सवर्ण समाज को मनाने की जिम्मेदारी सौंपी है।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :