मध्यप्रदेश में किसान पोलिटिक्स, शिवराज करेंगे आंदोलन, कमलनाथ ने किया मदद का ऐलान

भोपाल। मध्यप्रदेश में लोकसभा चुनाव से पहले पोलिटिक्स तेज हो गई है। लोकसभा चुनाव से पहले किसानों को रिझाने के लिए जहां सरकार कर्जमाफी कार्ड के लिए किसान वोट बैंक को अपने तरफ करने की कोशिश में जुटी है तो दूसरी ओर बीजेपी भी किसानों को रिझाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रही है।
सूबे में पहले किसानों की कर्जमाफी और पूर्व मुख्यमंत्री ने किसानों की समस्याओं को लेकर जहां मुख्यमंत्री कमलनाथ से मुलाकात की, वहीं शिवराज ने कमलनाथ सरकार पर ओला प्रभावित किसानों की मदद न करने का आरोप लगाते हुए 26 फरवरी को सीहोर में आंदोलन करने का ऐलान कर दिया है।

पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का कहना कि उनके बार-बार आग्रह करने के बाद सरकार ने अब तक किसानों की मदद नहीं की। इसलिए उनको किसानों की मांग के लिए प्रदर्शन का सहारा लेना पड़ रहा है, वहीं मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ट्वीट कर किसानों को भरोसा दिलाया है कि ओला प्रभावित किसानों की खराब फसल का सर्वे कराकर उनको मुआवजा दिया जाएगा।
ALSO READ:
बीजेपी को रसगुल्ला न समझें कमलनाथ, ट्रेलर वाले बयान पर शिवराज का करारा पलटवार
मुख्यमंत्री कमलनाथ ने किसानों को भरोसा दिलाया है कि किसान भाई चिंता न करें, सरकार आपके साथ है, सर्वे करवाकर मुआवज़ा दिया जाएगा। मध्यप्रदेश में बेमौसम और ओला गिरने से कई जिलों में किसानों की फसल बर्बाद हो गई है, जिससे किसानों के सामने एक बार फिर बड़ा संकट खड़ा हो गया है।


और भी पढ़ें :