इंदौरी स्वाद को विश्वस्तर पर ख्याति दिलाने वाले उद्यमियों का सम्मान


इंदौर के स्वाद की सनातन परंपरा को समृद्ध करने वाले हाथों का सम्मान

आज देश-विदेश में ख्याति अर्जित कर चुका है पर पहली बार शहर की कुछ प्रमुख संस्थाएं इस स्वाद के उद्यमियों का अभिनंदन कर रही हैं.... पढ़ें विस्तार से....


इंदौर यानी सराफा, इंदौर यानी 56 दुकान, इंदौर यानी राजवाड़ा .... जी हां, मालवा की इस अनूठी नगरी की पहचान यहां गली-गली में महकने वाले स्वादिष्ट व्यंजनों के ठिकानों से ही की जाती है। लेकिन इतिहास में संभवत: यह पहली बार हो रहा है कि जिन प्रतिष्ठानों से बनकर चटखारेदार स्वाद हमारी जुबां तक पहुंचता है उन प्रतिष्ठानों के किया जाए।


शहर की सामाजिक संस्थाएं नवदान्या, जैविक सेतु, जिम्मी मगिलिगन सेंटर फॉर सस्टेनेबल डेवेलपमेंट, इति आख्यान व विनायक ऑर्गेनिक फॉर्म मिलकर इस अनूठे सम्मान समारोह की आयोजक हैं। सबसे खास बात यह है कि स्वाद उद्यमियों को विश्वविख्यात पर्यावरणविद् डॉ. वंदना शिवा के हाथों यह सम्मान मिलेगा।

डॉ. वंदना शिवा, भारत की अन्न स्वराज की प्राचीन परंपरा को पुनर्स्थापित करने की दिशा में प्रयासरत हैं। इस दृष्टि से भी यह आयोजन बहुत विशेष बन पड़ा है।डॉ. जनक पलटा मगिलिगन इस अवसर पर विशेष रूप से उपस्थित रहेंगी।

आयोजक संस्थाओं का कहना है कि इंदौर की खानपान संस्कृति के स्वाद, जायके और सुगंध को जिस समर्पण, गुणवत्ता व शुद्धता के साथ इन उद्यमियों ने देश-विदेश तक प्रतिष्ठा दिलाई है वह हम सबके लिए गौरव का विषय है। आज तक हम मालवा के स्वाद प्रेमियों के गुणगान करते आए हैं पर जो इन स्वाद के रचियता है, निर्माता हैं, सृजक हैं वह हमारे दिलों में तो सम्माननीय हैं पर इस तरह से उनका सार्वजनिक तौर पर अभिनंदन कहीं नहीं हुआ है और हमें लगा कि यह होना आवश्यक है इसलिए हमने शहर के कुछ सुप्रसिद्ध स्वल्पाहार प्रतिष्ठानों का सम्मान करने का निर्णय लिया है।

संभव है कि इस दिशा में कुछ महत्वपूर्ण नाम रह भी गए हों लेकिन अगर यह परंपरा अन्य संस्थाओं द्वारा जारी रखी गई तो वह नाम भी शामिल किए जा सकेंगे जो यहां सूचीबद्ध नहीं हो सके हैं।


जैविक सेतु बिचौली मर्दाना, बायपास पर 7 जनवरी, 2018 रविवार को सुबह 9.30 बजे से होने वाले इस कार्यक्रम में सम्मानित होंगे...

1)माहेश्वरी भेल, गोपाल कोठारी,
मल्हारगंज
2) प्रसिद्ध कचोरी भंडार, बद्रीलाल शर्मा, मौलाना आजाद मार्ग
3) विजय चाट हाउस, कीर्तिभाई ठाकर, राजबाड़ा
4)शिवगिरी मिठाई, राम जी गुप्ता,
बड़ा सराफा
5) श्री सांवरिया फरियाली केंद्र, ओम प्रकाश व्यास, बड़ा सराफा
6) जय भोले जलेबी भंडार, दिनेश व्यास, बड़ा सराफा
7) भेरुनाथ रबड़ी, उदयशंकर व्यास, बड़ा सराफा
8) जोशी दही बडा, ओमप्रकाश जोशी, बड़ा सराफा
9) प्रकाश गराडू भंडार, बी.सी.अग्रवाल,
10) रवि अल्पाहार, उषादेवी रोडवाल, नगर निगम इंदौर \
11) घनश्याम चाट हाउस, घनश्याम शर्मा, चौक, कपडा बाजार
12) सर्व फलाहारी मिष्ठान भंडार, विनय नागोरी, बड़ा सराफा
13) अग्रवाल आइसक्रीम और मिठाई, महेश अग्रवाल, बड़ा सराफा
14) सुंदरम समोसा कॉर्नर, नरेंद्रजी,
बाज़ार राजबाड़ा, 15) शीतल गजक एवं कुल्फी भंडार, पुरुषोत्तम जी सैनी, छावनी,
16) समोसा कॉर्नर, इंद्र कुमार मित्तल, राजबाड़ा
17) कचोरी कॉर्नर, विजय जी मित्तल, राजबाड़ा
18) घंटेवाला टिकिया केंद्र, सराफा
19) नेमा कुल्फी सराफा
20) प्रकाश कुल्फी सराफा
21) प्रशांत पोहे, राजबाड़ा


वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :