बड़ा खुलासा! प्याज के बोरों में 'नशे' का कारोबार

- मुस्तफा हुसैन, नीमच से पश्चिमी मध्यप्रदेश के राजस्थान सीमा से लगे आखिरी जिले नीमच में बॉर्डर पर नशे के चौंकाने वाले कारोबार का खुलासा हुआ है। नशे के ये सौदागर मालवा के अलग-अलग इलाकों से डोडा चूरा इकट्‍ठा कर और उसे पीसकर प्याज के बोरों में छुपाकर पंजाब ले जाया करते थे। वहां इस चूरे को गांवों में पैकेट बनाकर बेचा जाता था।
नीमच एसपी तुषारकांत विद्यार्थी ने बताया की बॉर्डर के जावद थानांतर्गत नयागांव चौकी को सूचना मिली थी कि नशे की बड़ी खेप राजस्थान की ओर जाने वाली है। इस पर पुलिस ने नवकार सिटी नयागांव फोरलेन हाईवे पर सघन चैकिंग की। इसी दौरान बलदेव सिंह पिता जरनेल सिंह रामदासी (43) निवासी बंडिया थाना बनूर पंजाब तथा वेदप्रकाश पिता जग्‍गाराम रामदासी उम्र 35 साल निवासी सूरजगढ़ थाना शंभू जिला पटियाला के ट्रक नंबर पीबी 11 बीयू 8315 की तलाशी ली गई। तलाशी में ट्रक से प्‍याज के बोरों के बीच छिपाकर ले जाया जा रहा क्विंटल 15 किलो डोडाचूरा जब्त किया गया, जिसकी कीमत करीब 10 लाख रुपए से ज्यादा की बताई जा रही है। 
 
इस मामले में गिरफ्तार आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि अमजद पिता नूर मोहम्‍मद मेव (29)  निवासी फतेहगढ़ थाना भावगढ़ जिला मंदसौर ने उसकी कार नं एमपी 14 सीसी 2265 से भरकर यह डोडा चूरा इनको सप्लाय किया था। इस जानकारी के आधार पर अमजद को नामजद आरोपी बनाया गया है।
आरोपियों ने सनसनीखेज खुलासा करते हुए बताया कि पंजाब में माननीय उच्‍चतम न्‍यायालय के निर्देश से डोडाचूरा फुक्की बेचने की दुकान पर रोक लगने से वहां के गांवों में इसकी जरदस्त मांग है। आरोपी डोडाचूरा पीने के आदी नशेड़ियों को एक-दो किलो के पैकेट बनाकर बेचते हैं। पुलिस ने दोनों आरोपियों को एनडीपीएस एक्ट की धारा 8/15 के तहत गिरफ्तार कर लिया है।

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :