भोपाल में लगा अनोखा बाजार, केवल महिलाओं को प्रवेश

भोपाल। की राजधानी इन दिनों एक खास तरह के बाजार से गुलजार है। राजधानी में  भोपाल रियासत के समय में लगभग 100 साल पहले लगने वाले 'परी बाजार' की यादों को फिर ताजा  करने के लिए 'मीना बाजार' लगाया गया है, जहां केवल महिलाओं को ही प्रवेश दिया जा रहा है।  
संत रविदास हस्तशिल्प एवं हथकरघा विकास निगम की ओर से लगाए गए इस बाजार में प्रदेश के  दूरदराज से आई महिला कलाकारों ने अपने स्टॉल लगाए हैं। गुरुवार को प्रदेश की कुटीर एवं ग्रामोद्योग  मंत्री कुसुम मेहदेले ने इसका उद्घाटन किया। मीना बाजार 12 जुलाई तक चलेगा।
 
महदेले ने शुभारंभ के बाद स्टॉल पर पहुंचकर उत्पादों के संबंध में चर्चा की। उन्होंने उत्पादों की सराहना  करते हुए महिला कलाकारों को ग्रामोद्योग योजनाओं की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि निगम ने रियासती  दौर के मीना बाजार के रूप में को दोहराने का प्रयास किया है।
 
मीना बाजार में के सहयोग से एक फूड स्टॉल भी लगाया गया है। 4 दिनी इस  बाजार में विभिन्न प्रतियोगिताएं होंगी। रियासती दौर में उपयोग किए जाने वाले वस्त्र एवं परिधान के  साथ ही छायाचित्रों को प्रदर्शित किया जाएगा।
 
भोपाल रियासती दौर में महिलाओं की शिक्षा पर विशेष ध्यान दिया गया था। नवाब सिकंदर बेगम ने  सन् 1860 में एक स्कूल की स्थापना की थी। भोपाल रियासत की अंतिम महिला  शासक थीं जिन्होंने शिक्षित छात्राओं के लिए लेडीज क्लब की स्थापना की थी।
 
ब्रिटेन की महारानी सन् 1909 में जब भोपाल आईं तो लेडीज क्लब का नाम प्रिंसेस ऑफ वेल्स क्लब  रखा गया। क्लब में खेलकूद की प्रतिस्पर्धाएं और महिलाओं पर केंद्रित विषयों पर परिचर्चा होती थी।
 
वर्ष 1916 में बेगम सुल्तानजहां ने महिला क्लब के माध्यम से मीना बाजार लगाया। बाजार में  महिलाओं द्वारा निर्मित हस्तशिल्प सामग्री बिक्री के लिए रखी जाती थी तथा केवल महिलाओं को ही  उसकी खरीदी की अनुमति थी। उनके इस प्रयास से महिलाओं का जहां आत्मसम्मान बढ़ा, वहीं उन्हें  समाज में समानता का अधिकार भी मिला।
 
बेगम सुल्तानजहां स्वयं बाजार में दुकानों का निरीक्षण कर महिलाओं को प्रोत्साहित करती थीं। उस दौर  में मीना बाजार को परी बाजार इसलिए कहा जाता था क्योंकि पढ़ी-लिखी बच्चियां सुंदर वस्त्र धारण कर  परी के रूप में इन मेलों में भाग लेती थीं।
 
पुराने भोपाल में आज भी एक मोहल्ला परी बाजार कहलाता है। नवाब हमीदुल्ला खां के शासन काल में  भी सन् 1943 में उनके जन्मदिन पर बड़े स्तर पर मीना बाजार लगाने का उल्लेख मिलता है। (वार्ता)
 
 

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

देखिए मिथुन के बेटे मिमोह की शादी के फोटो

देखिए मिथुन के बेटे मिमोह की शादी के फोटो
तमाम विवादों के बीच मिथुन चक्रवर्ती के बेटे महाअक्षय उर्फ मिमोह 10 जुलाई को मदालसा के साथ ...

इस वजह से हुआ सोनाली बेंद्रे को हाई ग्रेड कैंसर, रिपोर्ट ...

इस वजह से हुआ सोनाली बेंद्रे को हाई ग्रेड कैंसर, रिपोर्ट में हुआ खुलासा
सोनाली बेंद्रे ने जब बताया कि वे हाई ग्रेड कैंसर की शिकार हैं तो जिसने भी सुना वह दंग रह ...

संजय दत्त ने अपनी बायोपिक 'संजू' से कितना कमाया?

संजय दत्त ने अपनी बायोपिक 'संजू' से कितना कमाया?
संजय दत्त पर आधारित फिल्म 'संजू' ने बॉक्स ऑफिस पर धूम मचा रखी है और फिल्म से जुड़े लोगों ...

संजय दत्त के खिलाफ क्यों हैं नाना पाटेकर?

संजय दत्त के खिलाफ क्यों हैं नाना पाटेकर?
जहां संजू बॉक्स ऑफिस पर धमाल मचाए जा रही है, वहीं दूसरी ओर कुछ ऐसे लोग भी हैं जिन्होंने ...

स्टाइलिश बिकिनी में सुहाना खान ने शेयर किया फोटो

स्टाइलिश बिकिनी में सुहाना खान ने शेयर किया फोटो
शाहरुख अपने परिवार के साथ यूरोप में छुट्टियां बीता रहे हैं। वे और गौरी खान लगातार फोटो ...

अब अजय देवगन करेंगे बायोपिक, क्रिकेट, हॉकी के बाद अब फुटबॉल ...

अब अजय देवगन करेंगे बायोपिक, क्रिकेट, हॉकी के बाद अब फुटबॉल की दास्तां
अजय देवगन जल्द ही एक बायोपिक में नज़र आने वाले हैं जो कि फुटबॉल पर आधारित होगी। इसके लिए ...

सूरमा : फिल्म रिव्यू

सूरमा : फिल्म रिव्यू
फिल्म 'सूरमा' का रिव्यू। फिल्म में एक्टिंग, कहानी और गाने कैसे हैं, जाने इस रिव्यू में।

फिल्म 'सूरमा' के निर्देशक शाद अली से वेबदुनिया की खास

फिल्म 'सूरमा' के निर्देशक शाद अली से वेबदुनिया की खास बातचीत
दिलजीत दोसांझ स्टारर फिल्म 'सूरमा' हाल ही रिलीज़ हुई हैंं और फिल्म की कहानी के अलावा ...

तापसी पन्नू... स्पेशल इंटरव्यू

तापसी पन्नू... स्पेशल इंटरव्यू
हाल ही में हॉकी प्लेयर और इंडिया टीम के लीडर संदीप सिंह की बायोपिक सूरमा रिलीज़ हुई। इसमें ...

मदनमोहन : चमत्कारी सुरीली धुनों के बादशाह

मदनमोहन : चमत्कारी सुरीली धुनों के बादशाह
14 जुलाई को सुप्रसिद्ध संगीतकार मदनमोहन ने इस दुनिया को अलविदा कहा था...उनकी बेशकीमती ...