Widgets Magazine
Widgets Magazine

पुस्तक विमोचन पर विराट ने खोला यह राज

पुनः संशोधित गुरुवार, 20 अक्टूबर 2016 (00:40 IST)
नई दिल्ली। टीम इंडिया के विराट कोहली ने कहा है कि उनके क्रिकेट करियर के दौरान समर्थकों ने ही उन्हें खुद पर भरोसा करना सिखाया जिसकी बदौलत आज वे यहां तक पहुंचे हैं। विराट ने अपने जीवन पर आधारित पुस्तक 'ड्रिवन : द विराट कोहली' के विमोचन के अवसर पर यह बात कही।
भारतीय क्रिकेट के दिग्गजों ने इस किताब का विमोचन किया। इस अवसर पर विराट के अलावा उनके कोच राजकुमार शर्मा, टीम इंडिया के कोच अनिल कंबले, विश्वकप विजेता कप्तान कपिल देव, पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग और पूर्व भारतीय क्रिकेटर रवि शास्त्री भी मौजूद थे।
 
लेखक विजय लोकपल्ली द्वारा लिखित इस पुस्तक में विराट की कामयाबी को दर्शाया गया है। 27 वर्ष की उम्र में ही विराट अर्जुन पुरस्कार, भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) द्वारा वर्ष का सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर का खिताब, आईसीसी 'प्लेयर आफ द ईयर' जैसे पुरस्कार पा चुके हैं। इसके अलावा उनकी कप्तानी में भारतीय क्रिकेट टीम टेस्ट में फिर से नंबर वन बनी हैं।
 
विराट ने के अवसर पर कहा कि मैं इस बात से बेहद खुश हूं कि विजय सर ने मेरे ऊपर यह किताब लिखी। मेरे परिवार, दोस्तों, मेंटरों, टीम साथियों और क्रिकेट समुदाय का शुक्रिया जिन्होंने मेरा समर्थन किया और मुझे खुद पर विश्वास करना सिखाया। मुझे उम्मीद है कि यह पुस्तक क्रिकेट प्रशंसकों को मेरे बारे में और अधिक जानने का मौका देगी।
 
लेखक विजय ने कहा कि मैंने विराट की कहानी को पाठकों के समक्ष रखने का प्रयास किया है। इसमें कुछ मजेदार कहानियां भी है जो क्रिकेटरों को सामाजिक मुद्दे और देश के नागरिकों का महत्व बताता है। इस अवसर पर तेज गेंदबाज आशीष नेहरा, अजय जडेजा, मुरली कार्तिक, हरि गिडवानी और अंजुम चोपड़ा भी उपस्थित थे। (वार्ता)
Widgets Magazine
Widgets Magazine Widgets Magazine
Widgets Magazine