समीर दिघे ने छोड़ा मुंबई का कोच पद

Last Updated: शुक्रवार, 8 जून 2018 (21:11 IST)
मुंबई। समीर दिघे ने मात्र एक सत्र बिताने के बाद ही के से निजी कारणों का हवाला देते हुए इस्तीफा दे दिया है।

मुंबई क्रिकेट संघ (एमसीए) ने हाल ही में सभी कोचों और चयनकर्ताओं से उनके पद पर बने रहने की इच्छा के बारे में पूछा था। के संयुक्त सचिव उन्मेश खानविलकर ने बताया कि दिघे ने पारिवारिक कारणों का हवाला देते हुए अपना पद छोड़ने की इच्छा जताई थी।

पूर्व भारतीय क्रिकेटर दिघे ने राष्ट्रीय टीम के साथ करियर में 6 टेस्ट और 23 वनडे खेले थे। दिघे को वर्ष 2016-17 सत्र के आखिरी में चन्द्रकांत पंडित की जगह मुंबई की टीम का कोच बनाया गया था। उनके मार्गदर्शन में मुंबई ने रणजी ट्रॉफी के क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया था।
इसके अलावा मुंबई ने सैयद मुश्ताक अली ट्वंटी-20 टूर्नामेंट के नॉकआउट में और विजय हजारे ट्रॉफी के नॉकआउट के लिए क्वालीफाई किया था लेकिन टीम को कोई खिताब नहीं मिला। एमसीए अधिकारी ने बताया कि दिघे की जगह जल्द ही नए कोच की तलाश की जाएगी। (वार्ता)


और भी पढ़ें :