धोनी को इस नंबर पर बल्लेबाजी करते देखना चाहते हैं रोहित शर्मा...

सिडनी| पुनः संशोधित शनिवार, 12 जनवरी 2019 (23:13 IST)
सिडनी। कप्तान विराट कोहली की राय से उलट भारतीय वनडे टीम के उपकप्तान रोहित शर्मा ने शनिवार को कहा कि महेंद्र सिंह धोनी के लिए बल्लेबाजी क्रम में आदर्श स्थान नंबर 4 है। भारतीय टीम विश्व कप से पहले बल्लेबाजी क्रम को तय करने में लगी है और रोहित ने कहा कि यह उनकी निजी राय है तथा कप्तान और कोच
का फैसला अंतिम होगा।

धोनी ने शनिवार को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले वनडे में 96 गेंदों पर 51 रन बनाए और भारत को यह मैच 34 रनों से गंवाना पड़ा। इससे धोनी की वर्तमान फॉर्म को लेकर फिर से बहस शुरू हो गई है। भारतीय पारी में शतक जड़ने वाले रोहित ने कहा कि निजी तौर पर मेरा मानना है कि धोनी का नंबर 4 पर बल्लेबाजी करना टीम के लिए आदर्श स्थिति होगी लेकिन हमारे पास अंबाती रायुडु है, जो वास्तव में नंबर 4 पर अच्छा प्रदर्शन कर रहा है। यह पूरी तरह से इस पर निर्भर करता है कि कप्तान और कोच इस बारे में क्या सोचते हैं? मेरी व्यक्तिगत राय पूछो तो मुझे धोनी को नंबर 4 पर उतारने में खुशी होगी।
कोहली ने इससे पहले इस स्थान के लिए अपनी पसंद रायुडु को बताया था। भारत 289 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए रोहित के वनडे में 22वें शतक तथा धोनी के साथ 141 रनों की साझेदारी के बावजूद 9 विकेट पर 254 रन ही बना पाया।

रोहित ने कहा कि अगर आप धोनी की ओवरऑल बल्लेबाजी पर गौर करो तो उनका स्ट्राइक रेट 90 के करीब है। शनिवार को परिस्थिति भिन्न थी। जब वे बल्लेबाजी के लिए आए तब हमने 3 विकेट गंवा दिए थे और ऑस्ट्रेलिया बहुत अच्छी गेंदबाजी कर रहा था। आप शतकीय साझेदारी आसानी से नहीं निभा सकते इसलिए हमने क्रीज पर कुछ समय बिताया और यहां तक कि मैं भी तेजी से रन नहीं बना पाया। मैंने भी कुछ समय लिया, क्योंकि हम यह साझेदारी निभाना चाहते थे। अगर हम उस समय 1 और विकेट गंवा देते तो मैच वहीं पर हमारे हाथ से निकल जाता इसलिए हमने गेंदें खाली जाने दीं और साझेदारी पर ध्यान दिया।
मैच से पहले धोनी को 'टीम का प्रकाशपुंज' करार देने वाले रोहित ने इसके साथ ही कहा कि यह पूर्व कप्तान टीम के लिए किसी भी स्थान पर बल्लेबाजी करने के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि यह उनके लिए बेहद सरल है और वे चीजों को जटिल नहीं बनाते। हमने साझेदारी निभाने पर बात की, क्योंकि तब यह जरूरी था। भारत ने शिखर धवन, कोहली और रायुडु के विकेट जल्दी गंवा दिए और रोहित ने कहा कि इससे अन्य बल्लेबाजों पर पारी संवारने का दबाव बन गया।
रोहित ने कहा कि हम जानते थे कि हम गेंदबाजों को दबाव में ला सकते हैं। दुर्भाग्य से हमने गलत समय पर विकेट गंवाए। पहले 3 विकेट और उसके बाद जब साझेदारी के कारण हम मजबूत स्थिति में लग रहे थे तब धोनी आउट हो गए और उसके बाद हमें लग गया था कि अब लक्ष्य तक पहुंचना मुश्किल होगा। (भाषा)

 

और भी पढ़ें :