भारत-ऑस्ट्रेलिया सीरीज पर रवि शास्त्री की भविष्यवाणी

पुनः संशोधित गुरुवार, 14 सितम्बर 2017 (18:44 IST)
मुंबई। भारतीय टीम के प्रमुख कोच रवि शास्त्री ने भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच शुरू होने जा रही पांच एक दिवसीय मैचों के लिए भविष्यवाणी की है। शास्त्री ने कहा सीरीज के पहले दो मैच ही सीरीज का फैसला करेगे। सीरीज 17 सितम्बर को चेन्नई में पहले मुकाबले से शुरु हो रही है।





शास्त्री ने विश्व चैंपियन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज को चुनौतीपूर्ण बताते हुए कहा, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले दो मैच बहुत महत्वपूर्ण साबित होंगे। हमें शुरुआती दोनों मैच जीतने होंगे और ये दो मैच ही सीरीज का फैसला कर देंगे।






टीम इंडिया के कोच ने कहा, 'भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलिया से सबसे जबरदस्त टक्कर मिलेगी। हमारा गेंदबाजी आक्रमण बहुत मजबूत है और यंगिस्तान में टैलेंट बहुत ज्यादा है। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ युवा खिलाड़ियों को मौका मिलेगा।'





उन्होंने टीम इंडिया के लिए खिलाड़ियों का बड़ा पूल बनाने की जरुरत पर बल देते हुए इंडिया टीवी के साथ बातचीत में कहा, 'हमें कम से कम 25 खिलाड़ियों की जरूरत है। जो खिलाड़ी फिट हैं वही टीम में आ सकते हैं। फॉर्म और फील्डिंग में फिट होना सबसे जरूरी है। अगर खिलाड़ियों को 2019 के विश्वकप में अच्छा खेलना है तो उन्हें फिट रहना होगा।'

श्रीलंका के खिलाफ सभी नौ मैचों में जीत हासिल करने के लम्हे को याद करते हुए शास्त्री ने कहा, 'मैं अपनी जिंदगी में ऐसा कभी नहीं देख पाऊंगा कि कोई भी टीम ऑस्ट्रेलिया या फिर इंग्लैंड और श्रीलंका में सारे के सारे मैच जीत ले।' भारत ने श्रीलंका में टेस्ट, वनडे और ट्वंटी-20 में क्लीन स्वीप किया था।









ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज को बेहद चुनौतीपूर्ण बताते हुए शास्त्री ने कहा, 'दोनों टीमें कागज पर एक जैसी हैं। ऐसी सीरीज में मुकाबला जबर्दस्त होगा और दोनों टीमें अपना जोर लगाएंगी। अगर ऑस्ट्रेलियाई टीम बदलाव के दौर में हैं, तो टीम इंडिया भी इस दौरे से गुजर रही है।'










भारतीय कप्तान विराट कोहली और ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीवन स्मिथ की तुलना पर शास्त्री ने कहा, 'दोनों कप्तानों को देखा जाए तो दोनों एक जैसे हैं। दोनों एक जैसी बल्लेबाज़ी करते हैं। स्टीव स्मिथ बहुत ही खतरनाक खिलाड़ी हैं और उनका भारत के खिलाफ स्मिथ का जबरदस्त रिकॉर्ड है।'

कप्तान विराट की तारीफ करते हुए कोच ने कहा, 'घुमा फिरा कर बात करना विराट को पसंद नहीं है। विराट कोहली का जोश में रहना टीम के लिए अच्छा है। आप विराट के सामने घुमा फिरा कर कोई बात नहीं कर सकते। विराट अब परिपक्व हो गए हैं। विराट काफी कुछ सीख चुके हैं और अगले 3-4 साल में बहुत सीखने वाले हैं।'





टीम इंडिया के लिए शास्त्री ने कहा, 'अब दूसरे खिलाड़ी भी उभर कर आगे आ रहे हैं। इस टीम की खास बात है कि इस टीम में विराट कोहली तो हैं ही जिनसे लोगों को उम्मीदें होती हैं। लेकिन अब बाकी खिलाड़ी भी परिपक्व हो चुके हैं। मनीष पांडे जबरदस्त खिलाड़ी हैं और गजब के शॉट लगा सकते हैं। लोकेश राहुल बहुत प्रभावशाली खिलाड़ी हैं।'








शास्त्री श्रीलंका में मिली जीत को अब पीछे छोड़ चुके हैं और उनके निशाने पर विश्व चैंपियन कंगारू हैं। उन्होंने कहा, 'श्रीलंका में जो हुआ वह इतिहास है। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ नई शुरुआत करनी है। अगर कंगारू मुंह खोलेंगे तो उनको जवाब मिलेगा। भगवान ने मुंह दिया है, तो जवाब भी मिलेगा।'

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine



और भी पढ़ें :