रवि शास्त्री की सफाई, इंग्लैंड से ज्यादा कुरेन ने टीम इंडिया को संकट में डाला

Last Updated: शुक्रवार, 14 सितम्बर 2018 (20:18 IST)
नई दिल्ली। के रवि शास्त्री ने कहा कि टेस्ट श्रृंखला में वे इंग्लैंड के सामूहिक प्रयास से नहीं हारे बल्कि हरफनमौला के शानदार खेल ने उन्हें संकट में डाला। भारत को 5 मैचों की श्रृंखला में 1-4 से पराजय झेलनी पड़ी लेकिन शास्त्री ने कहा कि स्कोर से यह पता नहीं चलता कि टीम ने कितना जुझारूपन दिखाया।

उन्होंने कहा कि मैं यह नहीं कहूंगा कि हम बुरी तरह नाकाम रहे लेकिन हमने कोशिश की। हमें जहां जरूरी हो, वहां श्रेय देना चाहिए। विराट और मुझे 'मैन ऑफ द सीरीज' चुनने को कहा और हम दोनों ने सैम कुरेन को चुना। उन्होंने हमें बहुत नुकसान पहुंचाया। इंग्लैंड से ज्यादा कुरेन ने हमें परेशान किया।

उन्होंने कहा कि पहले टेस्ट में इंग्लैंड का स्कोर 7 विकेट पर 87 रन था लेकिन फिर कुरेन ने रन बनाए। चौथे टेस्ट में उनका स्कोर पहली पारी में 6 विकेट पर 86 रन था लेकिन बाद में उन्होंने रन बनाए। एजबस्टन में पहली पारी में हमारा स्कोर बिना किसी नुकसान के 50 रन था लेकिन उसने विकेट ले लिए। श्रृंखला में अहम मौकों पर उसने रन बनाए या विकेट लिए।
शास्त्री ने कहा कि उनकी टीम ने जुझारूपन दिखाया। हम अभी भी दुनिया की नंबर 1 टीम हैं और इंग्लैंड को पता है कि हमने कितना अच्छा संघर्ष किया। मीडिया को पता है कि हमने कितना जुझारूपन दिखाया। हमारे प्रशंसकों को पता है। हमें खुद भीतर से पता है।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :