रणजी का मंच सजा, टेस्ट के लिए दावा ठोंकेंगे क्रिकेटर्स

पुनः संशोधित गुरुवार, 5 अक्टूबर 2017 (16:49 IST)
नई दिल्ली। लेफ्ट आर्म स्पिनर रवीन्द्र जडेजा और स्टार ऑफ स्पिनर रविचन्द्रन अश्विन
सहित कई भारतीय क्रिकेटर्स शुक्रवार से शुरू होने वाले 84वें रणजी ट्रॉफी में शानदार प्रदर्शन
कर नवंबर में श्रीलंका के खिलाफ होने वाली टेस्ट सीरीज के लिए अपना दावा ठोंकना
चाहेंगे।

भारत को अब अगला टेस्ट मैच 16 नवंबर से श्रीलंका के खिलाफ खेलना है और उससे
पहले अश्विन तथा जडेजा जैसे कई क्रिकेटरों के पास अपने फॉर्म में लौटने का यह शानदार
मौका है। इसके खिलाड़ी चाहेंगे कि वे इसमें अच्छा प्रदर्शन कर अपनी टीम की जीत में
अहम योगदान दें।

अश्विन के अलावा टेस्ट ओपनर और तमिलनाडु के बल्लेबाज मुरली विजय भी आंध्र के खिलाफ होने वाले मुकाबले से अपने फॉर्म में लौटना चाहेंगे। जयदेव शाह की अनुपस्थिति
में चेतेश्वर पुजारा सौराष्ट्र की कप्तानी संभालेंगे। हाल में वनडे और ट्वंटी-20 से बाहर किए
गए जडेजा भी इसी टीम का हिस्सा हैं।

रणजी ट्रॉफी में इस बार कुल 28 टीमें हिस्सा ले रही हैं और इस सत्र में कुल 91 मैच खेले
जाएंगे। इस बार घरेलू और घर से बाहर दोनों ही मैदानों पर टीमों को मैच खेलने होंगे। सभी 28 टीमों को 4 ग्रुपों में बांटा गया है। प्रत्येक पूल से शीर्ष 2 टीमें क्वार्टर फाइनल में
प्रवेश करेगी। (वार्ता)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine



और भी पढ़ें :