पाकिस्तान खिलाड़ियों पर कर रहा लाखों डॉलर खर्च

पुनः संशोधित बुधवार, 13 सितम्बर 2017 (18:06 IST)
लाहौर। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) अपने देश में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी के लिए लाहौर आई विश्व एकादश टीम के खिलाफ तीन ट्वंटी-20 मैचों की सीरीज की मेजबानी पर 25 से 30 लाख डॉलर खर्च कर रहा है।








इस राशि का बड़ा हिस्सा विश्व एकादश टीम को लाहौर लाने पर खर्च हुआ है। अभी तक सार्वजनिक रूप से यह नहीं बताया गया है कि खिलाड़ियों को कितना भुगतान किया जा रहा है, लेकिन समझा जाता है कि हर खिलाड़ी को लगभग एक-एक लाख डॉलर का भुगतान किया जा रहा है। शेष राशि अन्य प्रबंधनों पर खर्च होनी है।








पीसीबी को सीरीज के सुरक्षा प्रबंधों की पूरी लागत को वहन नहीं करना है। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) सुरक्षा के लिए करीब 11 लाख डॉलर का खर्चा उठा रहा है। पिछले आठ वर्षों के अंतराल के बाद पाकिस्तान में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की बहार लौटी है। मंगलवार को हुए पहले मैच का लाहौर के गद्दाफी स्टेडियम में दर्शकों ने पूरा लुत्फ उठाया था। इस मैच के लिए 25 हजार दर्शकों की क्षमता वाला स्टेडियम खचाखच भरा था।







पाकिस्तान ने 2009 में लाहौर में श्रीलंकाई टीम की बस पर हुए आतंकी हमले के बाद अगले आठ वर्षों में मात्र एक अंतरराष्ट्रीय सीरीज की मेजबानी की है। यदि विश्व एकादश के खिलाफ यह सीरीज बिना किसी परेशानी के निकल जाती है तो श्रीलंका के 29 अक्टूबर को लाहौर में एकमात्र ट्वंटी-20 मैच खेलने का रास्ता साफ हो सकता है। इसके बाद वेस्टइंडीज की टीम नवंबर में तीन ट्वंटी-20 मैचों की सीरीज के लिए पाकिस्तान का दौरा कर सकती है। (वार्ता)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine



और भी पढ़ें :