तेंदुलकर ने मिताली राज को दिया 'गुरुमंत्र'

पुनः संशोधित बुधवार, 11 अक्टूबर 2017 (19:48 IST)
नई दिल्ली। भारतीय महिला क्रिकेट टीम की ने आज यहां कहा कि मास्टर ब्लास्टर ने उन्हें अगले में भी देश का प्रतिनिधित्व करने के लिए कहा है, जिसके बाद उन्होंने आगे खेलना जारी रखने का फैसला किया।
‘इंटरनेशनल डे ऑफ गर्ल चाइल्ड’ के मौके पर एक कार्यक्रम में पहुंची मिताली ने कहा, ‘विश्व कप के दौरान जब मैंने 6000 रन का आंकड़ा पार किया, तब सचिन ने मुझे शुभकामनाएं देने के अलावा कुछ ऐसा कहा कि जो मेरे दिमाग में बैठ गया।

सचिन ने मुझे कहा कि अभी रूकना नहीं है। अगर तुम्हें लगता है कि आने वाले कुछ वर्षों में तुम प्रदर्शन कर सकती हो तो खेलना जारी रखो। इंग्लैंड (विश्व कप के बाद) से वापस आने के बाद मैं 2021 विश्व कप के बारे में सोच रही थीं जो सचिन ने मुझे कहा था।
भारतीय कप्तान ने कहा, ‘विश्व कप के फाइनल मैच से पहले मैं सचिन के पास गई और मैंने उन्हें टीम के खिलाड़ियों की हौसला अफजाई के लिए कहा तो वह तुरंत तैयार हो गए और टीम को प्रेरित किया।’

मिताली ने कहा, ‘सचिन ने कई बार मुझे प्रेरणा दी है, उन्होंने कुछ साल पहले मुझे एक बल्ला दिया था, जो मेरे लिए काफी भाग्यशाली था। मुझे याद है उससे मैंने बहुत सारे रन बनाए। वो बल्ला अब भी मेरे पास है। अब मैं अश्वस्त हूं कि सचिन मुझे और भी बल्ले देंगे।’

इस मौके पर यहां मौजूद तेंदुलकर ने मजाकिया अंदाज में कहा, ‘मैं नहीं चाहता हूं की आप अभी खेलना छोड़े इसलिए मैं बल्ला लेकर आया हूं। 2021 ज्यादा दूर नहीं है।’ आईपीएल की तर्ज पर महिला क्रिकेट लीग के बारे में पूछे जाने पर मिताली ने कहा कि इसमें अभी थोड़ा समय लगेगा क्योंकि हमारे पास खिलाड़ियों का पूल नहीं है।

मिताली ने कहा, ‘महिलाओं के लिए आईपीएल की तरह लीग शुरु करना बहुत अच्छी बात होगी लेकिन मुझे लगता है कि इसमें दो-तीन साल और लगेंगे क्योंकि हमारे यहां घरेलू स्तर पर ऐसी लीग के लिए खिलाड़ियों का पूल नहीं है।’

उन्होंने कहा, बीसीसीआई जमीनी स्तर पर खासकर स्कूल स्तर पर लड़कियों को क्रिकेट खेलने के लिए प्रोत्साहित कर रहा है। एक दो साल में हमारे पास 40-50 खिलाड़ियों का पूल तैयार हो जाएगा जो ऐसे लीग के हिसाब से उस स्तर का क्रिकेट खेल सकते हैं।

फिलहाल यह कोशिश होनी चाहिए की हम अपनी दूसरी स्तर की टीम को मजबूत बनाएं क्योंकि आने वाले दिनों में महिला क्रिकेटर्स को काफी मैच खेलने हैं। (भाषा)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :