नई गेंद से किया कमाल, जानिए क्या है खलील अहमद की सफलता का राज

लखनऊ| पुनः संशोधित बुधवार, 7 नवंबर 2018 (14:30 IST)
लखनऊ। वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे टी20 मैच में नई गेंद संभालने वाले युवा तेज गेंदबाज ने कहा कि उन्हें जिम्मेदारियां पसंद है और दबाव में उनका प्रदर्शन कभी खराब नहीं होता। खलील ने शाइ होप और शिमरोन हेटमेयर के रूप में दो शुरुआती विकेट लेकर वेस्टइंडीज पर दबाव बनाया।

उन्होंने कहा, 'मुझ पर ज्यादा जिम्मेदारी थी क्योंकि मैं नई गेंद से गेंदबाजी कर रहा था। मुझे जिम्मेदारियां पसंद है। जब मैं छोटा था तब हमेशा भारत के लिए खेलने का सपना देखता था। अब मेरा सपना पूरा हो गया है। अगर मैं दबाव लूंगा तो अपनी क्षमता के अनुरूप नहीं खेल सकूंगा।'

उन्होंने कहा, 'मेरा लक्ष्य भारत के लिए अच्छा खेलना है जिसके लिए मुझे अपने खेल का लुत्फ उठाना होगा। मुझे अपनी क्षमता पर यकीन है। यदि आप खेल का मजा लेते हैं तो अच्छे प्रदर्शन की भूख बढ़ती जाती है।

खलील ने अपनी सफलता का श्रेय आईपीएल में अंतरराष्ट्रीय सितारों के साथ ड्रेसिंग रूम साझा करने के अनुभव को दिया। उन्होंने कहा, 'आईपीएल में खेलने से काफी अनुभव मिलता है। आपको अपने खेल में ज्यादा बदलाव नहीं करने होते।' (भाषा)


और भी पढ़ें :