Widgets Magazine

शेन वॉटसन का सबसे खराब आईपीएल सत्र

नई दिल्ली| Last Updated: बुधवार, 10 मई 2017 (22:54 IST)

नई दिल्ली। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के स्टार ऑलराउंडर ने मौजूदा सत्र में अपने और टीम के बेहद खराब प्रदर्शन पर निराशा जाहिर करते हुए इसे अपना सबसे खराब आईपीएल बताया। 
 
वॉटसन ने हालांकि कहा कि वे टीम के अंतिम लीग मैच में रविवार को दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ होने वाले मैच में जीत के लिए सबकुछ झोंक देंगे ताकि टीम टूर्नामेंट से कुछ हद तक सम्मानजनक विदाई ले सके। 
 
स्टार बल्लेबाजों विराट कोहली, विस्फोटक और की मौजूदगी के बावजूद बेंगलुरु की टीम का इस सत्र में प्रदर्शन बेहद निराशाजनक रहा है और वह अपने 13 मैचों में केवल 2 में ही जीत हासिल कर सकी है। 
 
बेंगलुरु के खराब प्रदर्शन का इसी से अंदाजा लगा सकते हैं कि उसने अपने 6 घरेलू मैचों में से 5 गंवाए हैं और टूर्नामेंट में अपना सबसे कम स्कोर 49 रन भी बनाया है। वॉटसन का प्रदर्शन भी बेहद लचर रहा है और उन्होंने 7 पारियों में कुल 67 रन ही बनाए हैं।
 
वॉटसन ने निराशा जताते हुए कहा कि यह अविश्वसनीय है कि जिस टीम ने पिछले 2 वर्षों में शानदार प्रदर्शन किया था उसके खेल में अचानक इतनी गिरावट कैसे आ गई। पिछले वर्षों के बेहतरीन प्रदर्शन के आधार पर हमने जो दर्शकों का विश्वास जीता था वह इस बार चकनाचूर हो गया। समर्थकों के अपार समर्थन के बावजूद ऐसा घटिया प्रदर्शन बेहद निराशाजनक है। 
 
यह पूछे जाने पर कि क्या आईपीएल से पहले बहुत क्रिकेट नहीं खेल पाने से आपका प्रदर्शन प्रभावित हुआ है, वॉटसन ने कहा कि पिछले कुछ समय से मैं मैदान से दूर था और अभ्यास नहीं कर सका था। यह खराब प्रदर्शन का एक कारण हो सकता है लेकिन यह इस स्तर पर बहाना नहीं हो सकता।
 
उन्होंने कहा कि मैंने हमेशा अपना शत-प्रतिशत देने की कोशिश की है लेकिन अपने और टीम के खराब प्रदर्शन से मैं वाकई दुखी हूं। यह मेरा सबसे खराब आईपीएल सत्र है। टीम के अन्य खिलाड़ी भी अपने अपने प्रदर्शन से निराश हैं लेकिन यह खेल का हिस्सा है और सभी आगे के टूर्नामेंटों में फिर वापसी की कोशिश करेंगे। (वार्ता)


वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine
Widgets Magazine