इंग्लैंड ने भारत को दूसरे एकदिवसीय मैच में 86 रन से हराकर सीरीज 1-1 से बराबर की

लॉर्ड्स| Last Updated: रविवार, 15 जुलाई 2018 (00:03 IST)
लंदन। जो रूट (113) के शानदार शतक की मदद से इंग्लैंड ने भारत के खिलाफ दूसरे वनडे में शनिवार को 86 रनों से बेहतरीन जीत हासिल कर 3 मैचों की सीरीज में 1-1 से बराबरी कर ली। पहला वनडे 8 विकेट से हारने के बाद इंग्लैंड ने शानदार वापसी करते हुए 50 ओवरों में 7 विकेट पर 322 रनों का मजबूत स्कोर बनाया और भारतीय टीम को 50 ओवरों में 236 रनों पर निपटा दिया।
इस हार के साथ भारत के हाथ से इस सीरीज में नंबर 1 बनने का मौका निकल गया। भारत को नंबर 1 बनने के लिए सीरीज के तीनों मैच जीतने थे। ट्वंटी-20 सीरीज की तरह अब वनडे सीरीज का फैसला भी तीसरे और निर्णायक मैच से होगा।

पहले मैच के शतकधारी रोहित शर्मा के मात्र 15 रनों पर आउट हो जाने के बाद किसी अन्य बल्लेबाज ने बड़ी पारी खेलने और विकेट पर टिकने का जज्बा ही नहीं दिखाया। शिखर धवन 36, कप्तान विराट कोहली 56 गेंदों में 2 चौकों की मदद से 45, सुरेश रैना 63 गेंदों में 1 चौके के सहारे 46, महेंद्र सिंह धोनी 59 गेंदों में 2 चौकों की मदद से 37 और हार्दिक पांड्या 22 गेंदों में 21 रन बनाकर आउट हुए।
धोनी ने इस मैच में विकेट के पीछे 300 कैच और 10 हजार रन पूरे किए लेकिन भारत यह मैच जीत नहीं सका। इंग्लैंड की तरफ से लियाम प्लंकेट ने 46 रनों पर 4 विकेट लिए जबकि डेविड विली और आदिल राशिद के हाथ 2-2 विकेट लगे।

इससे पहले रूट ने अपने करियर का 12वां शतक बनाया। उन्होंने अपनी शानदार पारी में 116 गेंदों का सामना किया और 8 चौके तथा 1 छक्का लगाया। रूट ने कप्तान इयोन मोर्गन के साथ तीसरे विकेट के लिए 103 रन और डेविड विली 50 के साथ 7वें विकेट के लिए 83 रनों की साझेदारी की। रूट आखिरी गेंद पर रनआउट हुए।

ओपनर जेसन रॉय ने 40 और जॉनी बेयरस्टो ने 38 रन बनाए। मोर्गन ने 51 गेंदों पर 53 रनों की पारी में 4 चौके और 1 छक्का लगाया जबकि विली ने 31 गेंदों पर 50 रनों में 5 चौके और 1 छक्का लगाकर अपना पहला अर्द्धशतक बनाया। रॉय ने 42 गेंदों पर 40 रनों में 4 चौके और 1 छक्का लगाया। बेयरस्टो ने 31 गेंदों पर 38 रनों में 5 चौके और 1 छक्का लगाया।

इंग्लैंड ने एक समय भारतीय स्पिनरों के सामने अपने 6 विकेट 239 रनों पर गंवा दिए थे लेकिन रूट और विली की साझेदारी ने इंग्लैंड को मजबूत स्कोर पर पहुंचा दिया। इंग्लैंड ने अंतिम 5 ओवरों में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए 58 रन ठोंके। भारतीय विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी ने विकेट के पीछे 2 कैच लपककर 300 कैच पूरे किए और यह उपलब्धि हासिल करने वाले वे चौथे विकेटकीपर बने।

पहले वनडे में 6 विकेट हासिल करने वाले 'चाइनामैन' गेंदबाज कुलदीप यादव ने एक बार फिर शानदार प्रदर्शन किया और 3 विकेट लिए हालांकि इसके लिए उन्होंने 68 रन भी खर्च किए। उमेश यादव ने 63 रनों पर 1 विकेट, हार्दिक पांड्या ने 70 रनों पर 1 विकेट और युजवेंद्र चहल ने 43 रनों पर 1 विकेट लिया। (भाषा)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :