भारत को दबाव में डालेगा दक्षिण अफ्रीका का गेंदबाजी आक्रमण : ग्रीम स्मिथ

पुनः संशोधित गुरुवार, 21 दिसंबर 2017 (17:57 IST)
नई दिल्ली। पूर्व कप्तान ग्रीम स्मिथ का मानना है कि दक्षिण अफ्रीका का मजबूत गेंदबाजी आक्रमण केपटाउन में पांच जनवरी से शुरू हो रही आगामी टेस्ट श्रृंखला में भारतीय बल्लेबाजी क्रम को दबाव में डालेगा।
दुनिया की नंबर एक टीम भारत और नंबर दो टीम दक्षिण अफ्रीका के बीच दक्षिण अफ्रीका में होने वाले इस मुकाबले के काफी रोमांचक होने की उम्मीद की जा रही है और स्मिथ का मानना है कि दो सत्र पहले भारत में 0-3 की हार के बाद मेजबान टीम अतिरिक्त प्रेरित होगी।

स्मिथ ने कहा, मुझे लगता है कि दक्षिण अफ्रीका की टीम काफी मजबूत होगी। एबी डिविलियर्स की वापसी से उनकी टीम काफी मजबूत नजर आती है। गेंदबाजी भी काफी मजबूत है। उनके पास चुनने के लिए चार बेहतरीन अनुभवी तेज गेंदबाज हैं और कुछ युवा तेज गेंदबाज भी।
उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि वे तीन तेज गेंदबाजों और एक स्पिनर (केशव महाराज) तथा छह बल्लेबाजों के साथ उतरेंगे, जबकि क्विंटन डिकाक सातवें नंबर पर बल्लेबाजी करेंगे। यह उनका बल्लेबाजी क्रम होगा और मुझे लगता है कि यह काफी मजबूत है। स्मिथ का हालांकि मानना है कि बिना अभ्यास मैच के टेस्ट श्रृंखला में खेलने वाले भारत के लिए पहले टेस्ट का आयोजन केपटाउन में फायदेमंद हो सकता है।

उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि केपटाउन में भारत के पास सर्वश्रेष्ठ मौका होगा। दक्षिण अफ्रीका में गेंद का मूवमेंट इतना अधिक परेशान नहीं करता, जो चुनौती पैदा करता है वह अतिरिक्त उछाल है। मैं उम्मीद करता हूं कि विकेट पर काफी मूवमेंट नहीं होगी और धीमा उछाल होगा और खेल के आगे बढ़ने पर स्पिनरों को कुछ मदद मिलेगी।
चार साल पहले घरेलू सरजमीं पर भारत के खिलाफ 1-0 से श्रृंखला जीतने वाले दक्षिण अफ्रीका के महानतम कप्तानों में से एक स्मिथ ने कहा, प्रिटोरिया (दूसरा टेस्ट) और जोहानसबर्ग (तीसरा टेस्ट) भारतीय टीम के लिए बड़ी चुनौती होगी। (भाषा)


और भी पढ़ें :