श्रीलंकाई कप्तान बोले, प्रदूषण में खेलना मुश्किल था...

Last Updated: बुधवार, 6 दिसंबर 2017 (22:50 IST)
नई दिल्ली। श्रीलंका के ने आज यहां कहा कि में खेलना उनकी टीम के लिए मुश्किल था क्योंकि खिलाड़ी इसके अभ्यस्त नहीं है, लेकिन टीम ने परेशानियों को भुलाकर खेल पर ध्यान देना सही समझा।

फिरोजशाह कोटला मैदान में प्रदूषण से सामना करने के लिए चांदीमल सहित टीम के अन्य खिलाड़ियों ने मैच के दूसरे दिन मास्क का सहारा लिया और कुछ खिलाड़ी बीमार भी पड़ गए। चांदीमल ने आज मैच ड्रॉ होने के बाद कहा, ‘हमारे लिए यह मुश्किल समय था। दरअसल हम ऐसे प्रदूषण के अभ्यस्त नहीं है। इसलिए हमें पहले दो दिन काफी संघर्ष करना पड़ा।’

उन्होंने कहा, ‘हमने खिलाड़ियों से कहा कि हमें प्रदूषण को भूलकर खेल जारी रखना होगा। आज का दिन अच्छा था।’ चांदीमल ने भारतीय प्रशंसकों का शुक्रिया करने के साथ विराट कोहली और टीम को दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिए शुभकामनाएं दी। अपने बचाव में बीसीसीआई के वरिष्ठ अधिकारी राजीव शुक्ला ने कहा कि प्रदूषण के कारण मैच को रद्द नहीं किया जा सकता था।

शुक्ला ने कहा, ‘मैन को रद्द नहीं किया जा सकता था क्योंकि प्रदूषण हर किसी की चिंता है। किसी को पता नहीं था कि मैच के दौरान हालात में इतना बदलाव आएगा।’ दिल्ली में धुंध और प्रदूषण के कारण इसके एक अंतरराष्ट्रीय खेल स्थल होने पर प्रश्न चिह्न लगा गया। श्रीलंका के खिलाड़ियों ने प्रदूषण और धुंध के कारण सांस लेने में समस्या की शिकायत की और मैच के दूसरे दिन मास्क लगाकर खेलते देखे गए।

मैच के दूसरे दिन 26 मिनट का खेल प्रभावित हुआ, जिस कारण कोहली ने सात विकेट पर 536 रन पर भारत की पहली पारी घोषित कर दी। कल श्रीलंका के खिलाड़ियों ने एन95 मास्क लगाए दिखे, जिसे प्रदूषण से निपटने में सक्षम माना जाता है। तेज गेंदबाज सुरंगा लकमल को तीन ओवर की गेंदबाजी के बाद मैदान में काफी मुश्किल हालात का समना करना पड़ा। क्षेत्ररक्षण के दौरान वह उलटी करने लगे जिसके बाद उन्हें मैदान से बाहर जाना पड़ा। (भाषा)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine



और भी पढ़ें :