भुवनेश्वर और बुमराह से डरे न्यूजीलैंड के कोलिन मुनरो

पुनः संशोधित मंगलवार, 31 अक्टूबर 2017 (18:38 IST)
नई दिल्ली। भारत के खिलाफ एकदिवसीय श्रृंखला में के रूप में उतरने वाले आक्रामक बल्लेबाज कोलिन मुनरो ने आज और को दुनिया के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज करार देते हुए स्वीकार किया कि इन दोनों के सामने पारी का धमाकेदार आगाज करना मुश्किल होता है।
मुनरो मुख्य रूप से निचले मध्यक्रम के बल्लेबाज हैं लेकिन प्रयोग के तौर पर उन्हें हाल में समाप्त हुई वनडे श्रृंखला में पारी की शुरूआत करने का जिम्मा सौंपा गया। उन्होंने तीन मैचों में 113 रन बनाए, जिनमें कानपुर में खेले गए तीसरे वनडे की 75 रन की पारी भी शामिल है। उन्हें कल से यहां शुरू हो रही तीन मैचों की टी20 श्रृंखल में भी ओपनर की भूमिका निभानी पड़ सकती है।

मुनरो ने पहले की पूर्व संध्या पर पत्रकारों से कहा, ‘मेरे लिए सबसे बड़ी चुनौती बल्लेबाजी में अच्छी लय बरकरार रखना है। मैं चाहता हूं कि पहले दस ओवरों में मैं धमाकेदार बल्लेबाजी करूं लेकिन हमेशा ऐसा नहीं हो सकता विशेषकर तब जब आप भुवी और बुमराह जैसे गेंदबाजों का सामना कर रहे हो। वे निश्चित तौर पर इन परिस्थितियों में दुनिया के दो सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज हैं।’

इस 30 वर्षीय क्रिकेटर ने कहा कि वह टीम में किसी भी तरह की भूमिका निभाने के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा, ‘मैंने पहले मैच में अच्छा प्रदर्शन किया था लेकिन दूसरे मैच में अपेक्षित प्रदर्शन नहीं कर पाया लेकिन यह खेल का हिस्सा है। अगर मैं शीर्ष क्रम में अच्छा प्रदर्शन करता हूं तो यह टीम के लिए अच्छा होगा और चाहे शीर्ष क्रम में बल्लेबाजी करना हो या कुछ ओवर गेंदबाजी करना और बल्लेबाजी के लिए मध्यक्रम में उतरना जो भी टीम के हित में होगा मुझे वह करने में खुशी होगी।’

मुनरो इसके साथ ही कहा कि उनकी टीम भारत के खिलाफ अपना अच्छा प्रदर्शन बरकरार रखने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेगी। उन्होंने कहा, ‘यह एक ऐसा प्रारूप है जिसमें हमारे सभी खिलाड़ी खेलने का लुत्फ उठाते हैं। हम भाग्यशाली रहे कि हमने पिछले दो वर्षों में इस प्रारूप में अच्छा प्रदर्शन किया है और इस श्रृंखला में भी हम अपना यही प्रदर्शन दोहराने के लिए तैयार हैं और उम्मीद है कि परिणाम हमारे अनुकूल रहेंगे।’

मुनरो ने कहा कि उनकी निगाह अभी कल के मैच पर है और टीम श्रृंखला की अच्छी शुरूआत करना चाहती है। उन्होंने कहा, ‘यह अच्छा है कि तीन मैचों की श्रृंखला है क्योंकि अमूमन एक या दो मैच ही खेले जाते हैं। इसमें आपको काफी मौका मिलेगा। हमारा भारत के खिलाफ अच्छा रिकार्ड रहा है और हम उसे बरकरार रखने के कोशिश करेंगे। हम श्रृंखला की अच्छी शुरूआत करना चाहते हैं।’

मुनरो ने मिशेल मैकलेनगन और ल्यूक रोंची की अनुपस्थिति के बारे में कहा, ‘आप रातों रात रोंची की जगह नहीं ले सकते हैं लेकिन टॉम लैथम वास्तव में अच्छा प्रदर्शन कर रहा है और अपनी नयी भूमिका में लगातार अच्छे स्कोर बना रहा है।
जहां तक मिची (मैकलेनगन) की बात है तो हां भारत में उसके अनुभव की कुछ कमी खलेगी लेकिन अगर आप हमारे गेंदबाजी आक्रमण पर गौर करो तो हर किसी ने इस दौरे में अच्छा प्रदर्शन किया है। इसलिए हमारे पास अनुभवी गेंदबाजी आक्रमण है।’

दूसरे वनडे में नाकाम रहने के बाद मुनरो ने पूर्व कप्तान ब्रैंडन मैकुलम से टिप्स लिए थे, जिन्होंने उन्हें वनडे भी टी20 की तरह रवैया अपनाने की सलाह दी थी।

मुनरो ने कहा, ‘दूसरे मैच के बाद जब मैं अच्छी शुरूआत नहीं कर पाया तो मैंने उन्हें (मैकुलम) को संदेश भेजा। उन्होंने जवाब दिया कि तुम्हारा टी20 में अच्छा रिकॉर्ड है और शीर्ष क्रम में जिस तरह से बल्लेबाजी करते हो अगर वही वनडे में भी करो और अपना नैसर्गिक खेल खेलो।’ (भाषा)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :