विराट कोहली सहित पांच क्रिकेटरों को मिलेंगे 7 करोड़

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने खिलाड़ियों के में एक नए वर्ग ग्रेड 'ए प्लस' की घोषणा की है, जिसमें अक्टूबर 2017 से सितंबर 2018 के लिए पांच क्रिकेटरों को रखा गया है और इस अनुबंध में इन्हें सात-सात करोड़ रुपए दिए जाएंगे।

का संचालन देख रही प्रशासकों की समिति (सीओए) ने अक्टूबर 2017 से सितंबर 2018 तक के लिए वार्षिक खिलाड़ी अनुबंध की घोषणा की, जिसमें खिलाड़ियों के लिए अनुबंध राशि में वृद्धि कर दी गई है। भारतीय कप्तान विराट कोहली और टीम के कोच रवि शास्त्री ने सीओए प्रमुख विनोद राय से हाल में मुलाकात की थी और खिलाड़ियों की अनुबंध राशि बढ़ाने की मांग की थी जिस पर सीओए ने अपनी सहमति जता दी थी।

नए वर्ग ग्रेड 'ए प्लस'
7 करोड़ में कप्तान विराट कोहली, रोहित शर्मा, शिखर धवन, भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह को रखा गया है। इसके अलावा 'ए' ग्रेड में पांच करोड़ रुपए, 'बी' ग्रेड में तीन करोड़ रुपए और 'सी' ग्रेड में एक करोड़ रुपए दिए जाएंगे। बीसीसीआई ने ए प्लस ग्रेड में जहां पांच क्रिकेटरों को रखा है वहीं 'ए' ग्रेड में सात क्रिकेटरों को रखा गया है।'बी' ग्रेड में भी सात क्रिकेटरों और सी ग्रेड में भी सात क्रिकेटरों को जगह मिली है।

भारत के सबसे सफल कप्तान और इस समय सिर्फ सीमित ओवरों में खेल रहे महेंद्र सिंह धोनी को 'ए' ग्रेड में जगह मिली है। पांच करोड़ के 'ए' ग्रेड में धोनी के अलावा रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा, मुरली विजय, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्या रहाणे और रिद्धिमान साहा हैं।

'ए' ग्रेड के खिलाड़ी अश्विन, जडेजा, विजय, पुजारा और साहा सिर्फ टेस्ट क्रिकेट ही खेल रहे हैं। इनमें से कोई भी सीमित ओवर की क्रिकेट में फिलहाल भारतीय क्रिकेट टीमों का हिस्सा नहीं है। रहाणे इस ग्रेड के एकमात्र खिलाड़ी हैं, जिनका नाम तीनों फार्मेट में सक्रिय है।

तीन करोड़ के 'बी' ग्रेड में लोकेश राहुल, उमेश यादव, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल, हार्दिक पांड्या, ईशांत शर्मा और दिनेश कार्तिक को रखा गया है जबकि एक करोड़ के ग्रेड 'सी' में केदार जाधव, मनीष पांडे, अक्षर पटेल, करूण नायर, सुरेश रैना, पार्थिव पटेल और जयंत यादव को जगह मिली है। बीसीसीआई इस अवधि में चारों अनुबंध में शामिल 26 खिलाड़ियों को कुल 98 करोड़ रुपए फीस के रूप में देगा।

बीसीसीआई ने सीनियर के लिए भी ग्रेड 'सी' का नया वर्ग शुरू किया है। अक्टूबर 2017 से सितंबर 2018 की अवधि के लि'ए' में रुपए, ग्रेड 'बी' में 30 लाख रुपए और ग्रेड 'सी' में 10 लाख रुपए दिए जाएंगे।

महिलाओं के ग्रेड 'ए' में मिताली राज, झूलन गोस्वामी, और स्मृति मंधाना, ग्रेड 'बी' में पूनम यादव, वेदा कृष्णामूर्ति, राजेश्वरी गायकवाड़, एकता बिष्ट,शिखा पांडे और दीप्ति शर्मा तथा ग्रेड 'सी' में मानसी जोशी, अनुजा पाटिल, मोना मेशराम, नुजहत परवीन, सुषमा वर्मा, पूनम राउत, जेमिमा रोड्रिग्स, पूजा वस्त्रकर और तान्या भाटिया को रखा गया है।

सीओए ने भारतीय क्रिकेटरों की फीस में वृद्धि करते हुए कहा है कि इसका उद्देश्य भारतीय क्रिकेटरों के प्रदर्शन को सराहना करना और दुनिया में उन्हें सर्वश्रेष्ठ वेतन के बराबर लाना है। इसके अलावा घरेलू क्रिकेट के लिए प्रत्येकदिन की मैच फीस में 200 फीसदी की वृद्धि भी की गई है।

पुरुष सीनियर में एकादश में खेलने वाले खिलाड़ी को 35000 रुपए, अंडर-23 को 17500, अंडर-19 को 10500 और अंडर-16 को 3500 रुपए मिलेंगे जबकि महिला में सीनियर को 12500, अंडर-23 को 5500 और अंडर-19 तथा अंडर-16 को 5500 रुपए मिलेंगे। ट्वंटी 20 मैचों के लिए फीस इन प्रत्येक वर्गों की 50 फीसदी होगी। बीसीसीआई अपने तमाम खिलाड़ियों पर सालाना 125 करोड़ रुपए फीस के रूप में खर्च करेगा।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :