डि'विलियर्स और रबाडा ने दक्षिण अफ्रीका को मजबूत स्थिति में पहुंचाया

पोर्ट एलिजाबेथ| पुनः संशोधित रविवार, 11 मार्च 2018 (23:14 IST)
पोर्ट एलिजाबेथ। अनुभवी के से पहली पारी में मजबूत बढ़त हासिल करने के बाद दक्षिण अफ्रीका ने कैगिसो रबाडा की धारदार गेंदबाजी से दूसरी पारी में ऑस्ट्रेलियाई शीर्ष क्रम झकझोर कर दूसरे टेस्ट क्रिकेट मैच के तीसरे दिन आज यहां अपनी स्थिति मजबूत कर ली।
ऑस्ट्रेलिया ने तीसरे दिन का खेल समाप्त होने तक पांच विकेट पर 180 रन बनाए हैं और वह अब भी दक्षिण अफ्रीका से केवल 41 रन आगे है। डिविलियर्स ने 126 रन की लाजवाब पारी खेली। उन्हें पुछल्ले बल्लेबाजों विशेषकर वर्नोन फिलैंडर (36) और केशव महाराज (30) से अच्छा सहयोग मिला, जिससे दक्षिण अफ्रीका अपनी पहली पारी में 382 रन बनाकर 139 रन की बढ़त हासिल करने में सफल रहा।

ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 243 रन बनाए थे। इसके बाद तेज गेंदबाज रबाडा ने कहर बरपाया। उन्होंने अब तक 38 रन देकर तीन विकेट लिए हैं। ऑस्ट्रेलियाई दारोमदार मिशेल मार्श पर है जो स्टंप उखड़ने के समय 39 रन पर खेल रहे थे। उनके साथ विकेटकीपर बल्लेबाज टिम पेन पांच रन बनाकर क्रीज पर हैं।

रबाडा ने डेविड वॉर्नर (13) को बोल्ड करके ऑस्ट्रेलिया को शुरूआती झटका दिया। पहले स्पेल में रबाडा की तेजी देखने लायक थी। तब उनकी सबसे तेज गेंद की रफ्तार 151 किमी थी। कैमरून बैनक्राफ्ट (24) ने लुंगी एनगिडी की गेंद विकेटों पर खेली जबकि बाएं हाथ के स्पिनर महाराज ने चाय के विश्राम से पहले स्टीवन स्मिथ (11) का कीमती विकेट लिया। उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई कप्तान को विकेट के पीछे कैच कराया।

रबाडा ने चाय के विश्राम के तुरंत बाद शान मार्श (1) को विकेटकीपर क्विंटन डिकाक के हाथों कैच कराया और फिर उस्मान ख्वाजा (75) को पगबाधा आउट किया। ख्वाजा ने दिन के आखिरी क्षणों में अपना विकेट गंवाने से पहले मिशेल मार्श के साथ पांचवें विकेट के लिए 87 रन की साझेदारी की।

इससे पहले डिविलियर्स ने फिलैंडर के साथ आठवें विकेट के लिए 84 और महाराज के साथ नौवें विकेट के लिए 58 रन की दो उपयोगी साझेदारियां की। डिविलियर्स ने शुरू से ही गेंदबाजों को निशाने पर रखा तथा अपना कुल 22वां और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ छठा शतक पूरा किया। उन्होंने अपनी पारी में 146 गेंदें खेली तथा 20 चौके और एक छक्का लगाया। (भाषा)


और भी पढ़ें :