रिलायंस रिटेल अपनी आक्रामक विस्तार योजना जारी रखेगी

पुनः संशोधित शुक्रवार, 8 जून 2018 (17:31 IST)
नई दिल्ली। संगठित खुदरा क्षेत्र में अपनी आक्रामक विस्तार योजना को जारी रखेगी और अपनी स्थिति को मजबूत करने के साथ-साथ उपभोक्ताओं में खरीद की आदत विकसित करेगी। रिलायंस इंडस्ट्रीज ने अपनी हालिया में यह बात कही।

10 अरब डॉलर का बिक्री आंकड़ा पार करने वाली रिलायंस रिटेल पहली भारतीय कंपनी है जिसने विश्व की शीर्ष 200 खुदरा श्रृंखलाओं में जगह बनाई है। रिलायंस रिटेल भविष्य के लिए और संगठित खुदरा क्षेत्र में अपनी स्थिति मजबूत करने के लिए तैयार है।

रिलायंस ने कहा कि वह आक्रामक विस्तार योजनाओं के माध्यम से देश के संगठित खुदरा क्षेत्र में अपनी स्थिति को मजबूत करने के लिए दूरसंचार खंड 'जियो' की मजबूत स्थिति का लाभ उठाएगा।
रणनीति के मुताबिक कंपनी देश के दूसरे और तीसरे दर्जे के शहरों में अपने नेटवर्क का विस्तार जारी रखेगी। विस्तार के लिए 4 प्रमुख स्तंभों की पहचान की गई है जिसमें भौगोलिक पहुंच बढ़ाना, नए स्टोर, ग्राहक अनुभव और प्रौद्योगिकी का लाभ लेना शामिल है।

आरआईएल ने 2017-18 के लिए अपनी वार्षिक रिपोर्ट में कहा कि रिलायंस रिटेल की इच्छा देश के ग्रामीण इलाकों में पहुंचने की है। वह दूसरे तथा तीसरे दर्जे के शहरों में और बाजार में नेतृत्वकर्ता वाली स्थिति हासिल करने के लिए स्टोर के विस्तार की रूपरेखा पर काम कर रहा है। इसे पूरा करने के लिए कंपनी रिलायंस जियो की ताकत का लाभ उठाएगी।

आरआईएल के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी ने शेयरधारकों को दिए संदेश में कहा कि रिलायंस रिटेल एकमात्र भारतीय खुदरा विक्रेता है, जो दुनिया की शीर्ष 200 खुदरा श्रृंखलाओं में शामिल है। (भाषा)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :