Widgets Magazine

...तो 12 रुपए तक घट सकते हैं पेट्रोल-डीजल के दाम

पुनः संशोधित सोमवार, 10 सितम्बर 2018 (15:13 IST)
नई दिल्ली। पेट्रोल-की लगातार बढ़ती कीमतों के मुद्दे पर को घेरने के लिए कांग्रेस ने 'भारत बंद' बुलाया है। कांग्रेस का दावा है कि इस बंद में 21 विपक्षी पार्टियां साथ हैं। कांग्रेस ने मोदी सरकार पर पेट्रोल-डीजल पर एक्साइज ड्यूटी बढ़ाने का आरोप भी लगाया है।

और डीजल के दाम में लगी आग को लेकर कांग्रेस ने एक बड़ा दावा किया है। कांग्रेस ने कहा है कि पेट्रोल और डीजल के दाम में बढ़ोतरी के लिए सिर्फ अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की में बढ़ोतरी नहीं बल्कि सरकार की नीतियां जिम्मेदार हैं।
कांग्रेस ने कहा कि 2014 के मुकाबले पेट्रोल की एक्साइज ड्यूटी में करीब 211.7 प्रतिशत, जबकि डीजल की एक्साइज ड्यूटी में 443 प्रतिशत की बढ़ोतरी की गई है। कांग्रेस के मुताबिक पेट्रोल पर 2014 में जहां एक्साइज ड्यूटी 9.2 रुपए प्रति लीटर थी, जो अब बढ़कर 19.48 रुपए प्रति लीटर हो चुकी है। इसी तरह 2014 में डीजल पर एक्साइज ड्यूटी 3.46 रुपए प्रति लीटर थी, जो अब बढ़कर 15.33 रुपए प्रति लीटर की जा चुकी है।

कांग्रेस के आरोपों को आधार मानने पर अगर सरकार एक्साइज ड्यूटी को 2014 की स्थिति में ले जाए तो पेट्रोल कम से कम 10.42 रुपए और डीज़ल कम से कम 12 रुपए सस्ता हो जाए।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :