सोना-चांदी एक सप्ताह के उच्चतम स्तर पर

Gold
पुनः संशोधित गुरुवार, 16 मार्च 2017 (17:41 IST)
नई दिल्ली। अमेरिकी फेडरल रिजर्व के ब्याज दरों में 'धीरे-धीरे' वृद्धि करने वाले बयान से गुरुवार को अंतरराष्ट्रीय के साथ दिल्ली सर्राफा बाजार में भी दोनों कीमती धातु एक सप्ताह के उच्चतम स्तर पर पहुंच गए।
गत 2 कारोबारी दिवसों की गिरावट से उबरते हुए स्थानीय बाजार में सोना 450 रुपए की छलांग लगाकर 29,100 रुपए प्रति 10 ग्राम पर तथा चांदी 1,050 रुपए चमककर 41,350 रुपए प्रति किलोग्राम पर पहुंच गई।
 
फेडरल रिजर्व ने बुधवार को समाप्त 2 दिवसीय बैठक के बाद ब्याज दरों में 0.25 प्रतिशत की बढ़ोतरी की घोषणा की। आमतौर पर ब्याज दरें बढ़ने से पीली धातु पर दबाव बढ़ता है, लेकिन फेड के इस साल तथा अगले साल कुल 3-3 बार दरों में वृद्धि की संभावना बरकरार रखने से सर्राफा बाजार में निवेशकों का उत्साह लौट आया। 
 
राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के सत्ता संभालने के बाद कयास लगाए जा रहे थे कि फेड दरों में बढ़ोतरी की रफ्तार तेज हो सकती है, साथ ही मार्च की बैठक से पहले आर्थिक संकेतकों में मजबूती के कारण सोना पहले ही काफी लुढ़क चुका था। फेड के बयान के बाद इसमें दुबारा तेजी लौट आई।
 
लंदन में सोना हाजिर 4 डॉलर चढ़कर 1,224.30 डॉलर प्रति औंस पर पहुंच गया। कारोबार के दौरान यह 1 सप्ताह के उच्चतम स्तर 1,226.21 डॉलर प्रति औंस पर भी पहुंच गया था। अप्रैल का अमेरिकी सोना वायदा करीब 2 प्रतिशत यानी 23.1 डॉलर चढ़कर 1,223.8 डॉलर प्रति औंस बोला गया। चांदी हाजिर भी 0.12 डॉलर की तेजी के साथ 17.43 डॉलर प्रति औंस बोली गई।
 
वैश्विक तेजी के दम पर 2 दिन बाद स्थानीय बाजार में भी सोने-चांदी में चमक लौट आई। सोना स्टैंडर्ड 450 रुपए मजबूत होकर 09 मार्च के बाद के उच्चतम स्तर 29,100 रुपए प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया। सोना बिटुर भी इतनी ही तेजी के साथ 28,950 रुपए प्रति 10 ग्राम बोला गया। गिन्नी भी 100 रुपए चमककर 24,300 रुपए प्रति 8 ग्राम पर रही।
 
चांदी ने 1,000 रुपए से ज्यादा की छलांग लगाई। चांदी हाजिर 1,050 रुपए ऊपर 9 मार्च के बाद के उच्चतम स्तर 41,350 रुपए प्रति किलोग्राम पर तथा चांदी वायदा 1,040 रुपए उछलकर 41,010 रुपए प्रति किलोग्राम पर रही। सिक्कों में कोई बदलाव नहीं हुआ। सिक्का लिवाली और बिकवाली क्रमश: 70,000 और 71,000 रुपए प्रति सैकड़ा पर टिके रहे।
 
कारोबारियों ने बताया कि स्थानीय मांग में सुस्ती है। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कीमतों में बढ़ोतरी से दोनों कीमती धातुओं को बल मिला है। (वार्ता)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :