डॉलर के मुकाबले गिरा रुपया, बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, बढ़ेगी महंगाई...

पुनः संशोधित सोमवार, 10 सितम्बर 2018 (11:29 IST)
नई दिल्ली। डॉलर के मुकाबले रुपया सोमवार को एक बार फिर से भारी गिरावट के साथ खुला है। इसके बाद और के दाम और बढ़ सकते हैं। डॉलर के मुकाबले रुपया सोमवार को 45 पैसे टूटकर 72.18 के स्तर पर खुला है।

पिछले कारोबारी दिवस रुपया 71.73 के स्तर पर बंद हुआ था। डॉलर के मुकाबले रुपए के 72 के स्तर पार पहुंचने का असर क्रूड के आयात पर हो सकता है। भारत अपनी जरूरत का 80 प्रतिशत से ज्यादा क्रूड आयात करता है। ऐसे में डॉलर की कीमतें बढ़ने से इनके इंपोर्ट के लिए ज्यादा कीमत चुकानी होगी।

इंपोर्ट महंगा होगा तो ऑइल मार्केटिंग कंपनियां पेट्रोल-डीजल की कीमतें बढ़ा सकती हैं। इसका सीधा असर खाने-पीने की चीजों पर पड़ता है। खाने-पीने की चीजों और दूसरे जरूरी सामानों के ट्रांसपोर्टेशन के लिए डीजल का इस्तेमाल होता है। ऐसे में डीजल महंगा होते ही इन सारी जरूरी चीजों के दाम बढ़ेंगे।

अगर पेट्रोलियम उत्पाद महंगे हुए तो पेट्रोल-डीजल के साथ-साथ साबुन, शैंपू, पेंट इंडस्ट्री की लागत बढ़ेगी, जिससे ये उत्पाद भी महंगे हो सकते हैं। ऑटो इंडस्ट्री की लागत बढ़ेगी। साथ ही डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी से माल ढुलाई का खर्च भी बढ़ने का डर रहता है। इससे सीधा असर पर होता है।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :