सोना 33 हजार के रिकॉर्ड स्तर पर, चांदी भी चमकी

Delhi Sarafa Bazar
पुनः संशोधित गुरुवार, 10 जनवरी 2019 (15:33 IST)
नई दिल्ली। विदेशी बाजारों में पीली धातु के सात माह के उच्चतम स्तर पर पहुंचने और घरेलू बाजार में जेवराती मांग बरकरार रहने से गुरुवार को दिल्ली सर्राफा बाजार में सोना 270 रुपए चमककर पहली बार 33,000 रुपए के पार 33070 रुपए प्रति दस ग्राम पर पहुंचा। इस दौरान सिक्का निर्माताओं के उठाव में आई तेजी और औद्योगिक ग्राहकी निकलने से चांदी भी 410 रुपए की तेज छलांग लगाकर सात माह के उच्चतम स्तर 40510 रुपए प्रति किलोग्राम पर पहुंच गई।

पहली बार दिल्ली सर्राफा बाजार में सोना 33000 रुपए के रिकॉर्ड स्तर के पार पहुंचा है, हालांकि ऑल इंडिया सर्राफा बाजार एसोसिएशन के उपाध्यक्ष एसके जैन ने बताया कि नोटबंदी के दौरान काला बाजार में सोना 55 से 60 हजार रुपए प्रति दस ग्राम तक बिका था। उन्होंने कहा कि दोनों कीमती धातुओं में रही तेजी के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर रही बढ़ोतरी जिम्मेदार है।

विश्लेषकों के मुताबिक, दुनिया की अन्य प्रमुख मुद्राओं के बास्केट में डॉलर के टूटने से विदेशी बाजारों में सोने की चमक बढ़ गई है। लंदन का सोना हाजिर 3.75 डॉलर की तेजी में 1296.40 डॉलर प्रति औंस पर पहुंच गया। मार्च का अमेरिकी सोना वायदा भी 4.90 डॉलर की बढ़त के साथ 1,296.9 डॉलर प्रति औंस बोला गया। इस दौरान चांदी हाजिर 0.04 डॉलर की तेजी के साथ 15.77 डॉलर प्रति औंस पर पहुंच गई।

वैश्विक तेजी के बीच स्थानीय जेवराती मांग आने से सोना स्टैंडर्ड 270 रुपए चमककर 33070 रुपए प्रति दस ग्राम पर पहुंच गया। सोना बिटुर भी इतनी ही तेजी में 32920 रुपए प्रति दस ग्राम पर रहा। सोने की चमक बढ़ने का असर गिन्नी पर भी रहा और आठ ग्राम वाली गिन्नी 100 रुपए महंगी होकर 25300 रुपए पर पहुंच गई।

इस दौरान सिक्का निर्माताओं की ओर से उठाव में आई तेजी और औद्योगिक मांग निकलने से चांदी हाजिर 410 रुपए की छलांग लगाकर 10 जुलाई के बाद के उच्चतम स्तर 40510 रुपए प्रति किलोग्राम पर पहुंच गई। चांदी वायदा भी 365 रुपए की बढ़त में 39700 रुपए प्रति किलोग्राम बोली गई। सिक्कों की खनक भी इस दौरान बढ़ गई और सिक्का लिवाली तथा सिक्का बिकवाली 1000-1000 रुपए महंगे होकर क्रमश: 78 हजार और 79 हजार रुपए प्रति सैकड़ा पर पहुंच गए।

-->

और भी पढ़ें :