ऑल्टो की बिक्री 35 लाख के आंकड़े के पार

पुनः संशोधित सोमवार, 5 मार्च 2018 (23:18 IST)
नई दिल्ली। देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी के की कुल बिक्री का आंकड़ा के पार हो गया है। कंपनी ने सोमवार को बताया कि अपनी श्रेणी में इसकी बाजार हिस्सेदारी 33 फीसदी है। कंपनी का दावा है कि यह लगातार 14 साल से सबसे अधिक बिक्री वाली कार बनी हुई है। मॉडर्न डिजाइन, किफायती कीमत और ईंधन दक्षता के कारण ऑल्टो फैमिली के लिए पसंदीदा कार बनी हुई है।

ऑल्टो के खरीदारों में अधिकतर 35 साल की कम आयु वर्ग के हैं। कंपनी ने वर्ष 2000 में लांच करने के बाद इसे आकर्षक बनाने के लिए समय-समय पर कई बदलाव किए हैं। कंपनी के वरिष्ठ कार्यकारी निदेशक आरएस कल्सी ने बताया है कि ऑल्टो भारत ही नहीं, बल्कि वैश्विक स्तर पर भी सबसे अधिक बिकने वाली कार बन गई है।

वर्ष 2006 से ऑल्टो 5 लाख नए ग्राहकों को खुद से जोड़ रही है। वर्ष 2008 में इसने 10 लाख का आंकड़ा पार किया और वर्ष 2010 में इसने 15 लाख के आंकड़े को छुआ और इस साल इसकी कुल बिक्री 35 लाख के पार हो गई। वर्ष 2017-18 में ऑल्टो की वृद्धि दर 6 प्रतिशत रही।

अभी इसके 2 मॉडल ऑल्टो-800 और ऑल्टो के-10 सीएनजी ईंधन वैरिएंट के साथ आते हैं। मारुति ने वर्ष 2014 में ऑल्टो के-10 को टू पेडल टेक्नोलॉजी (ऑटो गियर शिफ्ट) से लैस किया था। ऑटो गियर शिफ्ट ईंधन दक्षता को कम किए बगैर शहरों में हैवी ट्रैफिक में ड्राइविंग को आरामदेह बनाता है। ऑल्टो के-10 की करीब 18 फीसदी बिक्री एजीएस वैरिएंट वाली कारों की है। (वार्ता)


और भी पढ़ें :