पर्यावरण दिवस पर बाल नाटिका : पेड़ों की पंचायत


- डॉ. प्रीति प्रवीण खरे
 
पात्र परिचय  
 
रोली- रिपोर्टर
मन्नत- दूसरा रिपोर्टर
आशुतोष- तीसरा रिपोर्टर
आम का पेड़
जामुन का पेड़
नीम का पेड़
बादाम का पेड़
अनार का पेड़
सीताफल का पेड़
दर्शक 

(टीवी चैनल रिपोर्टर रोली, मन्नत एवं आशुतोष भीड़ को संबोधित कर माइक पर बता रहे हैं। थोड़ी दूरी पर पेड़ों की सभा शुरू होने वाली है।)
 
रोली- दर्शकों! मैं रोली पांडे आप सभी को इस सभा का आंखों देखा हाल बताऊंगी। मेरे साथ कैमरे पर हैं आशुतोष तथा साथी। रिपोर्टर है मन्न्त। 
 
मन्नत- (रोली से) देखो यहां पेड़ों का आना जाना शुरू हो गया है। दर्शकों! मैं आपको बता दूं आज इस सभा को बुलाया है पेड़ों के राजा आम ने।
 
रोली- ये देखिए दर्शकों! आम के पेड़ पधार रहे हैं। आह... हां... हां... उन्हें देखकर मेरे मुंह में पानी आ रहा है। 
 
मन्नत- दर्शकों! मैं आपको बताना चाहूंगा आम को फलों का राजा कहते हैं। जब आम कच्चा होता है, तब उसकी चटनी और अचार बनाते हैं। पकने के बाद मीठे-मीठे रसीले आम को हम सभी स्वाद लेकर खाते हैं। 
 
रोली- आम के पीछे-पीछे नीम के हरे-भरे विशाल वृक्ष का आगमन भी हो रहा है। स्वाद में कड़वा जरूर है, लेकिन गुणों की खान है यह पेड़। 
 
मन्नत- वो देखिए दर्शकों! जामुन, अनार और बादाम तीनों बातें करते हुए एकसाथ आ रहे हैं।
 
रोली- आमंत्रित पेड़ों में एक-एक कर सभी आ चुके हैं। सबने अपना-अपना स्थान भी ग्रहण कर लिया है। लेकिन यह क्या! सभी तो शुरू हो ही नहीं रही है। (मन्नत से) क्या तुम्हें मालूम है अब किसका इंतजार हो रहा है? 
 
मन्नत- हां रोली! सीताफल के पेड़ की प्रतीक्षा की जा रही है। वे जैसे ही आएंगे, सभा शुरू हो जाएगी।
 
रोली- दर्शको! इंतजार की घड़ियां समाप्त हुई। सीताफलजी भी आ रहे हैं (दर्शकों से) अरे यह क्या! ये तो काफी कमजोर नजर आ रहे हैं। लगता है इनकी तबीयत खराब है तभी ये धीरे-धीरे चल रहे हैं।
 
मन्नत- ये देखिए दर्शकों! आम के पेड़ द्वारा सभा का अभिवादन किया जा रहा है। आगे का हाल क्यों न हम सब उन्हीं की जुबानी सुनें।
 

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :

क्यों नहीं चढ़ती हैं यह 8 पूजन सामग्री भोलेनाथ को... आप ...

क्यों नहीं चढ़ती हैं यह 8 पूजन सामग्री भोलेनाथ को... आप नहीं जानते होंगे..
प्रति सोमवार भगवान शिव को प्रसन्न करने के प्रयास किए जाते हैं। लेकिन हम में से बहुत कम ...

हल्दी के औषधीय महत्व तो जानते हैं अब जानिए 11 धार्मिक महत्व

हल्दी के औषधीय महत्व तो जानते हैं अब जानिए 11 धार्मिक महत्व
हल्दी जितनी सेहत के लिए लाभप्रद है उतना ही धार्मिक कार्यों में भी उसका महत्व है। यहां हम ...

सोते समय सिर किधर रखें और पैर किधर, जानें 7 काम की बातें, ...

सोते समय सिर किधर रखें और पैर किधर, जानें 7 काम की बातें, नहीं तो होंगे परेशान
नींद लेना, सोना या शयन करना ये हमारे रोजमर्रा की दिनचर्या का महत्वपूर्ण अंग है। सुश्रुत ...

इन्हें अपनाएंगे तो आपके होंठ गुलाब की तरह खिल जाएंगे

इन्हें अपनाएंगे तो आपके होंठ गुलाब की तरह खिल जाएंगे
आपके होंठ चमकदार और मुलायम हो जाएंगे। इन्हें अपनाएंगे तो गुलाब की तरह खिल जाएंगे ...

सोते समय नाभि में बस 2 बूंद तेल डालें और सेहत के 17 फायदे ...

सोते समय नाभि में बस 2 बूंद तेल डालें और सेहत के 17 फायदे पाएं
नाभि शरीर का केंद्र बिंदु होता है। हर रात सोने से पहले अगर आप मात्र दो बूंद तेल भी नाभि ...

संतान के लिए सुरक्षा-कवच है पिता

संतान के लिए सुरक्षा-कवच है पिता
‘पिता’ शब्द संतान के लिए सुरक्षा-कवच है। पिता एक छत है, जिसके आश्रय में संतान विपत्ति के ...

घर को पेंट करवाने से पहले पढ़ें ये 5 वास्‍तु टिप्स

घर को पेंट करवाने से पहले पढ़ें ये 5 वास्‍तु टिप्स
क्या आप अपने नए घर को पेंट करवाने का सोच रहे हैं? या अपने पुराने आशियाने को ही नई रंगत ...

नमक के बारे में यह 7 बातें आपको नहीं पता है तो पछताएंगे, ...

नमक के बारे में यह 7 बातें आपको नहीं पता है तो पछताएंगे, दादी मां के टोटके
कई तरह के टोटके हमारे समाज में पीढ़ी दर पीढ़ी प्रचलित हैं। हमारी दादी-नानी हमें बताती है ...

अगर आपके पर्स में भी हैं यह 7 चीजें तो तुरंत बाहर निकालें.. ...

अगर आपके पर्स में भी हैं यह 7 चीजें तो तुरंत बाहर निकालें.. यह रोक‍ती हैं धन को...
पर्स में रखी कुछ चीजें ऐसी होती हैं जो धन के आगमन को रोकती हैं। अगर आपके पर्स में भी रखी ...

सामान्य नमक छोड़ दें, सेंधा नमक शुरू करें, जानिए सेहत के 7 ...

सामान्य नमक छोड़ दें, सेंधा नमक शुरू करें, जानिए सेहत के 7 अचूक फायदे
आयुर्वेद के अनुसार सेंधा नमक स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद है, इसलिए इसे सर्वोत्तम नमक ...