राजस्थान रॉयल्स और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु में होगी नॉकआउट जंग

पुनः संशोधित शुक्रवार, 18 मई 2018 (12:10 IST)
राजस्थान। और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के बीच शनिवार को यहां होने वाले मुकाबले में जंग होगी। इस मुकाबले को जीतने वाली टीम की आईपीएल-11 के प्लेऑफ में पहुंचने की उम्मीदें बनी रहेंगी, जबकि हारने वाली टीम प्लेऑफ की होड़ से बाहर हो जाएगी।

राजस्थान और बेंगलुरु अंकों के मामले में इस समय एक ही नाव पर सवार हैं। दोनों के 13-13 मैचों में छह-छह जीत के साथ 12-12 अंक हैं। दोनों को हर हाल में जीत चाहिए, लेकिन जीत मिलने से भी टीम का प्लेऑफ में स्थान सुनिश्चित नहीं हो पाएगा। बेंगलुरु अभी पांचवें और राजस्थान छठे स्थान पर है। इस मुकाबले को जीतने वाली टीम के 14 अंक हो जाएंगे लेकिन कुछ और टीमें भी 14 अंक पर पहुंचने वाली स्थिति में है।

कोलकाता नाइटराइडर्स के 14 अंक हैं और उसका एक मैच बाकी है जबकि मुंबई इंडियंस के भी 12 अंक हैं और उसका भी एक मैच बाकी है। किंग्स इलेवन पंजाब के भी 12 अंक हैं और उसका भी एक मैच बाकी है। 14 अंकों की स्थिति में नेट रन रेट का महत्व बढ़ जाएगा और टीमों को 14 अंकों पर पहुंचने के साथ अपना और दूसरी टीमों का नेट रन रेट भी देखना होगा।

नेट रन रेट के मामले में बेंगलुरु की स्थिति अच्छी है और वह प्लस में है, जबकि राजस्थान का नेट रन रेट माइनस में है। अजिंक्य रहाणे की राजस्थान टीम को जीत के साथ-साथ अतिरिक्त जोर लगाना होगा, ताकि उसका रन रेट सुधर सके। राजस्थान के लिए उसके दो इंग्लिश खिलाड़ियों जोस बटलर और बेन स्टोक्स के स्वदेश लौट जाने के कारण स्थिति नाजुक हो गई है। बटलर ऐसे खिलाड़ी थे, जिन्होंने इस सत्र में राजस्थान के लिए सबसे ज्यादा रन बनाए थे।

राजस्थान बटलर की कमी की भरपाई कैसे करेगा यह देखना दिलचस्प होगा। राजस्थान ने अपना आखिरी मैच कोलकाता से छह विकेट से गंवाया था। बेंगलुरु ने एक समय लगभग बाहर होने की स्थिति से जबरदस्त वापसी की है और खुद को होड़ में ला खड़ा किया है। बेंगलुरु ने अपने पिछले तीन मुकाबलों में दिल्ली, पंजाब और हैदराबाद के खिलाफ जीत हासिल की है और अपना नेट रन रेट भी सुधारा है।

बेंगलुरु ने कल एबी डीविलियर्स (69) और मोईन अली (65) के तूफानी अर्धशतकों से छह विकेट पर 218 रन का विशाल स्कोर बनाने के साथ ही अपने रन रेट में भी सुधार कर लिया। बेंगलुरु के लिए एक और विराट जीत प्लेऑफ के लिए उसका दावा मजबूत कर देगी। (वार्ता)

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :

Cricket Update