हैदराबाद के खिलाफ आत्मविश्वास के साथ उतरेगा मुंबई

Last Updated: बुधवार, 12 अप्रैल 2017 (00:46 IST)
मुंबई। कोलकाता नाइटराइडर्स के खिलाफ प्रेरणादायी जीत दर्ज करने के बाद आत्मविश्वास से भरी की टीम इंडियन प्रीमियर लीग में मंगलवार को यहां मौजूदा चैंपियन सनराइजर्स हैदराबाद से भिड़ने के लिए तैयार है।

यह युवा खिलाड़ियों के बीच का मुकाबला होगा जिसमें नितीश राणा और हार्दिक पंड्या जैसे खिलाड़ी एक तरफ होंगे तो अफगानिस्तान के लेग स्पिनर राशिद खान दूसरी तरफ, जिन्होंने अब तक अपनी गेंदबाजी से काफी प्रभावित किया है। मुंबई इंडियंस को पिछले कुछ वर्षों से खराब शुरुआत के लिए
जाना जाता रहा है लेकिन इस बार उसने राणा के अर्धशतक और हार्दिक पंड्या की तूफानी पारी से अपने दूसरे मैच में ही पूरे अंक हासिल किए।

गेंदबाजी में हार्दिक के बड़े भाई कृणाल ने अच्छा प्रदर्शन किया और तीन विकेट लिए। मुंबई के लिए
टूर्नामेंट का तीसरा मैच हालांकि काफी मुश्किल होगा क्योंकि उसका सामना बेहतरीन फार्म में चल रहे सनराइजर्स से है जिसने अपने पहले दो मैच में आसान जीत दर्ज की।

मुंबई टीम प्रबंधन इससे खुश होगा कि केकेआर के खिलाफ जीत उसके युवा खिलाड़ियों ने दिलवाई
है। दिल्ली के राणा की यह खास पारी थी, जिन्हें घरेलू सत्र के दौरान विजय हजारे ट्रॉफी में तीन पारियों में नाकाम रहने के बाद दिल्ली के कोच केपी भास्कर ने चयनकर्ताओं के कहने पर घर भेज दिया था।

यह भी संयोग है कि राणा ने अपना कौशल गौतम गंभीर की टीम के खिलाफ दिखाया, क्योंकि वह भारत का यह पूर्व सलामी बल्लेबाज ही था, जिसने इस युवा खिलाड़ी को टीम से इस तरह से बाहर किए जाने का विरोध किया था।

मुंबई अब अपने तीन प्रमुख खिलाड़ियों रोहित, पोलार्ड और हरभजन सिंह से भी अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद कर रहा होगा। रोहित चोट से उबरने के बाद बड़ी पारी खेलने के लिए बेताब हैं। केकेआर के खिलाफ उन्हें अंपायर के गलत फैसले का शिकार होना पड़ा, जिस पर नाराजगी जताने के लिए उन्हें फटकार भी लगी थी। लसिथ मलिंगा ने पिछले मैच में अपने बाद के स्पैल में अच्छी वापसी की थी जबकि जसप्रीत बुमराह ने भी डेथ ओवरों में बेहतर गेंदबाजी की।

मुंबई अपनी टीम में एक बदलाव करके मिशेल मैकलीनगन के स्थान पर उनके हमवतन कीवी तेज गेंदबाज टिम साउथी को अंतिम एकादश में रख सकता है। मैकलीनगन केकेआर के खिलाफ महंगे साबित हुए थे। मुंबई का गेंदबाजी आक्रमण कैसा भी हो उन्हें शीर्ष क्रम में डेविड वॉर्नर और बेहतरीन फिनिशर युवराज सिंह की कड़ी चुनौती से जूझना होगा।

युवराज को दूसरे मैच में बल्लेबाजी का मौका नहीं मिला, क्योंकि वॉर्नर और उनके हमवतन ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर मोएजेस हेनरिक्स ने ही टीम को लक्ष्य तक पहुंचा दिया था। वॉर्नर की फार्म में वापसी निश्चित तौर पर मुंबई के लिए चिंता का विषय होगी। गेंदबाजी में उसके लिए अफगानिस्तान का लेग स्पिनर राशिद तुरूप का इक्का साबित हुआ है। उन्होंने अब तक दोनों मैचों में बल्लेबाजों को परेशान किया और पांच विकेट हासिल किए हैं। (भाषा)


Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :