Widgets Magazine

मिस्बाह, यूनुस को टीम ने दी विजयी विदाई

पुनः संशोधित मंगलवार, 16 मई 2017 (00:00 IST)

रोसेयू। क्रिकेट टीम ने में अपनी पहली जीत के साथ ही दो दिग्गज खिलाड़ियों कप्तान मिस्बाह उल हक और यूनुस खान को उनके करियर के आखिरी रोमांचक मुकाबले में यादगार विजयी विदाई दिला दी।  
         
पाकिस्तान ने वेस्टइंडीज को तीसरे और निर्णायक टेस्ट में 101 रन से हराकर 2-1 से सीरीज जीत ली जो मिस्बाह और यूनुस के करियर की आखिरी सीरीज भी थी। पाकिस्तानी कप्तान ने यादगार मोड़ पर करियर की समाप्ति पर खुशी जताते हुए कहा कि वह इससे बेहतर कुछ और नहीं मांग सकते थे। 
        
उन्होंने कहा, गेंदबाजों ने पूरी जान लगाकर गेंदबाजी की। वे मेरे और यूनुस के लिए मेहनत कर रहे थे। कई बार तो हम परेशान हो गए थे, रन जा रहे थे, विकेट नहीं मिल रहे थे, हमने कई मौके भी गंवा दिए, लेकिन ऐसे मैच में जीत मिलने का ही अपना मजा होता है। मैं करियर की इस तरह समाप्ति करके बहुत खुश हूं।
 
वेस्टइंडीज के बल्लेबाज रोस्टन चेज ने 304 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए नाबाद 101 रनों की जबरदस्त शतकीय पारी खेल डाली और मेजबान टीम की हार टालते हुए एक समय मैच को ड्रॉ की ओर मोड़ दिया लेकिन लेग स्पिनर यासिर शाह के 92 रन पर पांच विकेट की बदौलत कैरेबियाई टीम दिन का खेल समाप्त होने से एक ओवर पहले ही दूसरी पारी में 96 ओवर में 202 रन पर ढेर हो गई। 
        
रोसेयू के विंडसन पार्क में वेस्टइंडीज ने सुबह अपनी दूसरी पारी की शुरुआत सात रन पर एक विकेट से आगे बढ़ाते हुए की। उस समय कार्लोस ब्रेथवेट तीन रन बनाकर क्रीज पर डटे हुए थे और मैच ड्रॉ की ओर बढ़ता दिख रहा था। चेज और वेस्टइंडीज के निचले क्रम के बल्लेबाजों ने पाकिस्तानी गेंदबाजों के आखिरी दिन पसीने छुड़ा दिए और मेहमान टीम ने 17 ओवर का खेल शेष रहते नई गेंद ली जब उसे दो विकेट की और जरूरत थी। 
       
ब्रेथवेट (6) और कीरोन पावेल (4) के सस्ते में आउट होने के बाद शिमरोन हेत्माएर 25 रन और शाई होप 17 रन बनाकर जल्दी ही आउट हो गए और विंडीज ने अपने पांच विकेट 76 रन तक गंवा दिए। हालांकि पांचवें नंबर पर आए चेज ने फिर पाकिस्तान को सबसे अधिक परेशान किया और मैदान पर 366 मिनट तक टिके रहे और अंत में भी नाबाद पैवेलियन लौटे। चेज ने अपनी टीम की हार टालने के लिए 239 गेंदों में 12 चौके और एक छक्का लगाकर नाबाद 101 रन बनाए और करियर का तीसरा टेस्ट शतक बनाया।       
         
मैच के एक ओवर शेष रहते हुए वेस्टइंडीज  ड्रॉ की ओर अग्रसर था कि यासिर ने 11वें नंबर के बल्लेबाज शैनन गैबरिएल (4) को 96वें ओवर की आखिरी गेंद पर बोल्ड कर कैरेबियाई पारी को 202 पर समेट दिया। गैबरिएल ने इससे पहले 21 गेंदों का बचाव किया था और अपने चार रन भी एक चौके के सहारे ही लगाए। लेकिन इस बार वह यासिर की गेंद से बच नहीं सके जो सीधे स्टम्प्स में जा घुसी। 
       
रोमांचक इस मैच में गैबरिएल को इससे दो बार पहले भी सिली प्वांइट पर कैच दिया गया था लेकिन वीडियो समीक्षा के बाद निर्णय को बदल दिया गया। मैच में 69 और नाबाद 101 रन की पारियां खेलने वाले चेज को मैन आफ द मैच चुना गया। वहीं पाकिस्तानी गेंदबाज यासिर को मैन आफ द सीरीज चुना गया।
       
42 वर्षीय मिस्बाह ने पाकिस्तान के लिए 75 टेस्टों में 46.62 के औसत से 5222 रन बनाए हैं और वह राष्ट्रीय टीम के बतौर कप्तान रिटायर हुए, हालांकि उन्हें अपने देश में कप्तानी करने का कभी मौका नहीं मिल सका। वहीं यूनुस खान पाकिस्तान के सबसे सफल बल्लेबाज के रूप में रिटायर हुए, जिन्होंने 118 टेस्टों में 52.05 के औसत के साथ 10099 रन बनाए।
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine
Widgets Magazine