IPL10: आखिर क्यों सता रही है क्रिकेट प्रेमियों को चिंता!

लखनऊ| अवनीश कुमार| Last Updated: गुरुवार, 4 मई 2017 (08:45 IST)
लखनऊ। उत्तर प्रदेश के ग्रीनपार्क में होने वाले को लेकर जहां रातों की नींद जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन की उड़ी हुई है तो वही कुछ ऐसे दर्शक है जिन्हें अभी से डर सताने लगा है कि वह मैच देख भी पाएंगे या नहीं। ऐसा होना लाजमी है क्योंकि यह वह दर्शक है जिन्होंने के ग्रीनपार्क में होने वाले मैच के लिए पहले तो टिकट पाने में जद्दोजहद करी और बाद में अंदर तक जाने का मौका भी ना मिला और अगर मिला तो पुलिस की दुत्कार मिली।
अब ऐसे में इन क्रिकेट प्रेमियों को फिर से डर सता रहा है कि वह 10 व 13 मई को होने वाला आईपीएल मैच में देख पाएंगे कि नहीं। ऐसे बहुत से सवाल है जो कहीं ना कहीं यूपीसीए के पदाधिकारियों के साथ-साथ जिला प्रशासन पर भी सवाल खड़े करती है।

अब ऐसे में देखना होगा कि पिछले मैचों में जिन समस्याओं का सामना क्रिकेट प्रेमियों को करना पड़ा है, क्या वह आईपीएल में भी करना पड़ेगा? यह तो आने वाला वक्त ही तय करेगा क्रिकेट प्रेमियों को समस्याओं का सामना करना पड़ेगा या नहीं।

क्या बोले क्रिकेट प्रेमी : उत्तर प्रदेश के लखनऊ में रहने वाले राहुल खत्री का कहना है कि वह हर बार क्रिकेट मैच की टिकट लेकर ग्रीनपार्क के गेट तक तो गए लाइन में भी लगे लेकिन जब अंदर जाने का नंबर आया तो उन्हें बाहर का रास्ता दिखा दिया गया। ऐसा एक नहीं पिछले 2 सालों में जितने भी मैच ग्रीन पार्क में हुए हैं उन्हें इस दिक्कत का सामना करना पड़ा है अब ऐसे में आईपीएल मैच की टिकट का भी इंतजाम कर लिया है लेकिन क्या आईपीएल मैच को वह देख पाएंगे। ऐसे कई सवाल हैं जो राहुल जिला प्रशासन व यूपीसीए के पदाधिकारियों से कर रहे हैं।
उत्तर प्रदेश के झांसी में रहने वाले राहुल यादव कहते हैं कि ग्रीनपार्क में जब-जब मैच होता है अव्यवस्थाएं इतनी होती हैं कि पूछिए भी नहीं अगर पार्क के अंदर जाना है तो 6 घंटे पहले ही लाइन में लग जाएंगे और अगर जरासा देर हो गई तो कितनी भी महंगी टिकट क्यों न हो आपके पास आपको अंदर जाने का मौका ही नहीं मिलेगा। अगर किसी प्रकार से हाथ जोड़कर मौका मिल भी गया तो अंदर पुलिस प्रशासन का बोलबाला होता है और आधे से अधिक उन्हीं के रिश्तेदार कुर्सियों पर बैठ मैच का आनंद ले रहे होते हैं। हम टिकट होने के बावजूद भी मजबूरी में खड़े होकर मैच भी देखते हैं तो उसमें भी कइयों बार कुर्सी पर बैठे लोगों के व पुलिस वालों के अपशब्दों का सामना करना पड़ता है।
अजय वर्मा, अनु पांडे व कुमार गौरव जैसे बहुत सारे लोगों ने सिर्फ यही कहा कि जिला प्रशासन व यूपीसीए बातें तो बहुत बड़ी बड़ी करता है लेकिन जब मैच देखने की बारी आती है तो इनकी पोल ग्रीनपार्क खोल कर रख देता है। अब ऐसे में सभी लोगों को यह चिंता हो रही है कि इस बार फिर हम मैच देखने तो जाएंगे पर क्या मैच का आनंद उठा पाएंगे। कहीं ऐसा ना हो हर बार की तरीके हमें बाहर से ही लौटना पड़े।

तो वही यूपीसीए वा जिला प्रशासन के अधिकारियों की माने तो सारी व्यवस्थाएं ठीक रहेंगी। किसी भी प्रकार की कोई समस्या का सामना इस बार क्रिकेट प्रेमियों को नहीं करना पड़ेगा। जो कमियां पिछले मैच में रह गई थी उन्हें इस मैच में पूरा कर लिया गया है। जिला प्रशासन ने स्पष्ट रुप से कह दिया है कि अगर किसी भी प्रकार की दिक्कत का सामना अगर क्रिकेट प्रेमियों को करना पड़ा तो कारवाही होना निश्चित है।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine



और भी पढ़ें :