IPL-10 : गेंदबाजों और त्रिपाठी ने दिलाई पुणे को जीत, केकेआर फिर हारा

पुनः संशोधित गुरुवार, 4 मई 2017 (00:20 IST)
कोलकाता। गेंदबाजों के अनुशासित प्रदर्शन के बाद राहुल त्रिपाठी के करियर की सर्वश्रेष्ठ पारी से ने इंडियन प्रीमियर लीग में आज यहां विषम परिस्थितियों से उबरते हुए को चार विकेट से हराकर लगातार तीसरी जीत के साथ प्लेऑफ के लिए अपना दावा मजबूत किया।
त्रिपाठी ने 52 गेंद में सात छक्कों और नौ चौकों की मदद से 93 रन की पारी खेली, जिससे पुणे की टीम ने 19.2 ओवर में छह विकेट पर 158 रन बनाकर जीत दर्ज की। केकेआर की ओवर से क्रिस वोक्स ने 18 रन देकर तीन विकेट चटकाए लेकिन टीम को हार से नहीं बचा पाए।

केकेआर की टीम वाशिंगटन सुंदर (18 रन पर दो विकेट) और जयदेव उनादकट (28 रन पर दो विकेट) की उम्दा गेंदबाजी के सामने आठ विकेट पर 155 रन ही बना सकी थी। बेन स्टोक्स, डेनियल क्रिस्टियन और इमरान ताहिर ने भी एक-एक विकेट हासिल किया।
कोलकाता का कोई बल्लेबाज अच्छी शुरुआत को बड़ी पारी में नहीं बदल पाया। मनीष पांडे ने सर्वाधिक 37 जबकि कोलिन डि ग्रैंडहोम ने 36 रन बनाए। सूर्यकुमार यादव ने अंत में 16 गेंद में नाबाद 30 रन की पारी खेलकर टीम को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया।

पुणे की पिछले सात मैचों में यह छठी जीत है और वह 11 मैचों में 14 अंक के साथ तीसरे स्थान पर पहुंच गई है। केकेआर के भी लगातार दूसरे मैच में शिकस्त के बाद 11 मैचों में 14 अंक हैं लेकिन बेहतर नेट रन रेट के कारण वह दूसरे स्थान पर है।
पुणे की टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही और उसने दूसरे ओवर में ही अजिंक्य रहाणे (11) का विकेट गंवा दिया, जिन्होंने उमेश यादव की गेंद पर विकेटकीपर शेल्डन जैकसन को कैच थमाया। कप्तान स्टीवन स्मिथ भी नौ गेंद में नौ रन बनाने के बाद क्रिस वोक्स की गेंद पर बोल्ड हो गए।

त्रिपाठी ने हालांकि दूसरे छोर पर ताबड़तोड़ बल्लेबाजी की। उन्होंने नाथन कोल्टर नाइल के पारी के तीसरे ओवर में एक छक्के और तीन चौकों से 19 रन जुटाए और फिर उमेश की लगातार गेंदों पर छक्का और चौका मारा। कोल्टर नाइल के अगले ओवर में भी त्रिपाठी ने छक्का और दो चौके मारे। टीम ने पावर प्ले में दो विकेट पर 74 रन बनाए।
त्रिपाठी ने सुनील नारायण पर चौके के साथ 23 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। वोक्स ने मनोज तिवारी (8) को बोल्ड करके पुणे को तीसरा झटका दिया। त्रिपाठी ने कुलदीप यादव की गेंद पर एक रन के साथ 11वें ओवर में टीम के रनों का सैकड़ा पूरा किया। पुणे को अंतिम आठ ओवर में जीत के लिए 46 रन की दरकार थी। त्रिपाठी ने कुलदीप पर लगातार तीन छक्कों के साथ पुणे का पलड़ा भारी किया।

नारायण ने पिछले मैच के शतकवीर बेन स्टोक्स (14) को पैवेलियन भेजकर केकेआर को वापसी दिलाने की कोशिश की जबकि कुलदीप ने महेंद्र सिंह धोनी (5) को जैकसन के हाथों कैच कराया। टीम को अंतिम तीन ओवर में 10 रन की दरकार थी लेकिन उमेश के 18वें ओवर में सिर्फ दो रन बने जबकि 19वें ओवर में वोक्स ने त्रिपाठी की पारी का अंत कर दिया। इस ओवर में तीन रन बने।
अंतिम ओवर में पुणे को पांच रन की जरूरत थी और पिछले मैच की तरह इस मैच में भी क्रिस्टियन (नाबाद 9) ने डि ग्रैंडहोम पर छक्का जड़कर पुणे जीत दिला दी। इससे पहले स्मिथ ने टॉस जीतकर केकेआर को बल्लेबाजी का न्यौता दिया और उनके गेंदबाजों ने कप्तान के फैसले को सही साबित करने की पूरी कोशिश की।

उनादकट ने पारी की पहली पांच गेंद खाली फेंकी और फिर अंतिम गेंद पर सुनील नारायण (0) को अपनी ही गेंद पर लपका। जैकसन (10) ने सुंदर पर चौका जड़ा लेकिन इस युवा आफ स्पिनर की गेंद को काफी पीछे जाकर खेलने की कोशिश में हिट विकेट हो गए।
कप्तान और सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर (24) ने सुंदर की लगातार गेंदों पर चौका और छक्का जड़ा लेकिन अगली गेंद पर एक और छक्का मारने की कोशिश में डीप मिडविकेट पर रहाणे के हाथों लपके गए। टीम पावर प्ले में तीन विकेट पर 41 रन ही बना सकी। लेग स्पिनर इमरान ताहिर ने यूसुफ पठान (4) को पगबाधा करके केकेआर को चौथा झटका दिया।

पांडे और डि ग्रैंडहोम ने इसके बाद पारी को संभाला। पांडे ने शारदुल ठाकुर पर लगातार तीन चौके जबकि डि ग्रैंडहोम ने ताहिर पर लगातार दो छक्के मारे। दूसरे छक्के पर हालांकि क्रिस्टियन ने लांग ऑफ पर उनका कैच छोड़ा। डि ग्रैंडहोम ने स्टोक्स की गेंद पर चौका और फिर एक रन के साथ 14वें ओवर में टीम के रनों का शतक पूरा किया।
पांडे हालांकि क्रिस्टियन की गेंद पर बड़ा शॉट खेलने की कोशिश में मिडविकेट पर रहाणे को कैच थमा बैठे, जिससे डि ग्रैंडहोम के साथ उनकी 48 रन की साझेदारी का अंत हुआ। पांडे ने 32 गेंद का सामना करते हुए चार चौके और एक छक्का जड़ा। उनादकट ने अपने नये स्पैल की दूसरी ही गेंद पर डि ग्रैंडहोम को सुंदर के हाथों कैच कराके केकेआर को बड़ा झटका दिया। उन्होंने 19 गेंद की अपनी पारी में तीन चौके और दो छक्के मारे।
क्रिस वोक्स इसके बाद रन आउट हुए। सूर्यकुमार ने 19वें ओवर में उनादकट की पहली तीन गेंद पर दो चौके और एक छक्का जड़ा। नाथन कोल्टर नाइल (6) ने भी छक्का मारा, जिससे ओवर में 21 रन बने। स्टोक्स ने अंतिम ओवर में कोल्टर नाइल को पैवेलियन भेजा जबकि इस ओवर में केवल चार रन बने। (भाषा)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine



और भी पढ़ें :