Widgets Magazine

बद्री की 'हैट्रिक' पर पोलार्ड भारी, मुंबई की आईपीएल में तीसरी जीत

पुनः संशोधित शुक्रवार, 14 अप्रैल 2017 (21:30 IST)

बेंगलुरु। में आज दो कैरेबियाई क्रिकेटरों का जलवा देखने को मिला लेकिन आखिर में की अर्धशतकीय पारी सैमुअल बद्री की 'हैट्रिक' पर भारी पड़ी, जिससे ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु को चार विकेट से हराकर इंडियन प्रीमियर लीग में लगातार तीसरी जीत दर्ज की।
 
पोलार्ड ने 47 गेंद का सामना करते हुए तीन चौके और पांच छक्कों की मदद से 70 रन की आक्रामक पारी खेली, जिससे मुंबई इंडियंस ने शुरूआती झटकों से उबरते हुए रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के पांच विकेट पर 142 रन के अपेक्षाकृत छोटे लक्ष्य को 18.5 ओवर में 6 विकेट पर 145 रन बनाकर हासिल कर लिया।
 
मुंबई इंडियंस ने बद्री के कहर से सात रन के अंदर अपने चार विकेट गंवा दिए थे जिसके बाद पोलार्ड और कृणाल पंड्या (30 गेंद, नाबाद 37 रन, तीन चौके और एक छक्का) ने मिलकर 9.3 ओवर में छठे विकेट के लिए 93 रन की साझेदारी निभाकर टीम को जीत की ओर अग्रसर किया। जीत की औपचारिकता पंड्या बंधुओं ने पूरी की। हार्दिक पंड्या नौ रन बनाकर नाबाद रहे। यह आईपीएल में पहला अवसर है जबकि टीम ने दस रन से कम के स्कोर पर चार विकेट गंवाने के बाद मैच जीता। 
 
इस सत्र में अपना पहला मैच खेल रहे बद्री ने चार ओवर में एक मेडन से नौ रन देकर चार विकेट झटके। उन्होंने अपने दूसरे और टीम के तीसरे ओवर में पहले सलामी बल्लेबाज पार्थिव पटेल (3) को पैवेलियन भेजा, फिर मिशेल मैकलेनगन (0) और कप्तान रोहित शर्मा (0) को आउट कर हैट्रिक पूरी की।
 
बद्री आईपीएल में हैट्रिक लेने वाले 12वें गेंदबाज बने। यह इस टी20 टूर्नामेंट की कुल 15वीं और वर्तमान सत्र की पहली हैट्रिक है। इस कैरेबियाई स्पिनर का यह ओवर मेडन था। उन्होंने टी20 क्रिकेट में अब तक 20 ओवर मेडन कर लिए हैं, जो कि रिकॉर्ड है। क्रिस गेल बल्लेबाजी में धमाल नहीं कर सके, पर उन्होंने दो शानदार कैच लपके लेकिन टीम अपनी लगातार दूसरी हार से नहीं बच सकी। 
 
इससे पहले विराट कोहली ने 47 गेंद में 62 रन बनाकर चोट से उबरने के बाद शानदार वापसी की लेकिन उनके आउट होने के बाद मुंबई ने बेंगलुरु को पांच विकेट पर 142 रन पर रोक दिया। बेंगलुरु की टीम कोहली की अच्छी बल्लेबाजी का फायदा उठाने में असफल रही और अंतिम पांच ओवरों में चार विकेट गंवाकर महज 31 रन ही बना सकी। 
 
ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे टेस्ट के दौरान कोहली को कंधे में चोट लगी थी जिससे वह एक महीने से क्रिकेट से बाहर थे, लेकिन वह समय पर फार्म में लौटे। पारी के दूसरे ओवर में हरभजन सिंह की शॉर्ट पिच गेंद की ठीक टाइमिंग नहीं कर सके लेकिन इसके बाद वह फार्म में आ गए। 
 
अगला ओवर तेज गेंदबाज टिम साउथी ने फेंका, जिस पर उन्होंने एक सीधा छक्का और दो चौके जमाए। इनमें से एक शानदार पुल शॉट था जबकि दूसरा मिड ऑन पर खेला गया। इस बीच उनके सलामी बल्लेबाज क्रिस गेल (27 गेंद में 22 रन) बड़ी हिट लगाने में असफल रहे, जिसके लिए वह मशहूर हैं। हालांकि वेस्टइंडीज का यह धुरंधर हरभजन की गेंद पर एक छक्का जड़ने में कामयाब रहा लेकिन वह सर्वश्रेष्ठ फॉर्म में नहीं दिखा। 
 
कोहली ने अपनी पारी के दौरान पांच चौके और दो छक्के जड़े। उन्होंने जसप्रीत बुमराह की फुल टॉस पर गगनचुंबी छक्का जड़कर अपना अर्धशतक पूरा किया। हालांकि बेंगलुरु की टीम 16वें ओवर में उनके आउट होने के बाद राह से भटक गई और 17 गेंद के अंदर एक विकेट पर 110 रन से पांच विकेट पर 127 रन पर जूझ रही थी। कोहली और गेल ने पहले विकेट के लिए 63 रन जोड़े जो टीम की सर्वश्रेष्ठ भागीदारी रही। 
 
इसके बाद कोहली और एबी डीविलियर्स (21 गेंद में 19 रन) ने 47 रन की साझेदारी की। कोहली को छोड़कर स्टार सुसज्जित बल्लेबाजी लाइन अप ज्यादा कुछ नहीं कर सका। मुंबई के गेंदबाजों में मिशेल मैकलेनगन, हार्दिक पंड्या और हरभजन ने प्रभावित किया। हरभजन ने इस सत्र में दूसरी बार गेंदबाजी की शुरुआत की। 
Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine
Widgets Magazine