क्रिकेटर के कमरे में रात भर रही महिला?

Last Updated: शनिवार, 23 मई 2015 (17:42 IST)
आईपीएल के खिलाड़ियों का नाम हमेशा से ही मैच फिक्सिंग और उनके महिलाओं के साथ संबंधों को लेकर गाहे-बगाहे उछलता रहा है। इस बीच एक और मामला सामने आया है। अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस में छपी खबर के मुताबिक पिछले सीजन में एक शख्स के जहाज पर प्रीति जिंटा का किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाड़ियों को पार्टी देने का मामला आईसीसी के ऐंटी करप्शन स्कैनर पर है।
इसके अलावा चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाड़ी के कमरे में एक महिला का रात गुजारना और शाहरुख खान के दोस्त का बिना बीसीसीआई की इजाजत के केकेआर के खिलाड़ियों के लिए डिनर आयोजित करने का मामला भी जांच के घेरे में है।
 
आईपीएल फ्रेंचाइजी द्वारा प्रोटोकॉल के उल्लंघन के ये मामले ऐसे समय में सामने आए थे जब स्पॉट फिक्सिंग केस की जांच जारी थी। ये सभी मामले पिछले साल बीसीसीआई की ऐंटी करप्शन सिक्यॉरिटी यूनिट (एसीएसयू) की नजर में आए थे।> > पिछले सीजन में बीसीसीआई को भेजे एक में एसीएसयू चीफ रवि स्वानी ने ऐसे मामलों में लिस्ट भेजी थी जिनमें खिलाड़ियों और फ्रेंचाइजी मालिकों द्वारा खेल नियमों का उल्लंघन किया गया।
इस ई-मेल में बताया गया था कि आईपीएल सीजन 7 में 16 अप्रैल से 1 जून के बीच कई बार खेल नियमों के खिलाफ जाकर काम किया गया। हैरानी की बात यह है कि यह सब तब हुआ जब सुप्रीम कोर्ट में स्पॉट फिक्सिंग मामले की सुनवाई चल रही थी।  
 
ये खुलासे एक मेल के सहारे किए गए हैं। एक मेल में लिखा है कि एक दूसरी महिला चेन्नै सुपरकिंग्स के ही अन्य खिलाड़ी के कमरे में रात 10:10 बजे घुसी और अगले दिन सुबह साढ़े सात निकली। जब प्लेयर से इस बारे में पूछा गया तो उनका कहना था कि महिला उनकी गर्लफ्रेंड हैं और जल्द ही वे शादी करेंगे।

बाद में एसीयू की पूछताछ में पता चला कि यह महिला पहले श्रीशांत और अन्य खिलाड़ी के संपर्क में रही है। स्टेडियम में वह महिला आरसीबी के लिए भी चीयर करती देखा जा चुकी थीं।
 
इसके अलावा ईमेल में कई ऐसी घटनाओं का भी जिक्र है जिसमें खिलाड़ियों के कमरे में उनके दोस्त और अन्य संबंधियों के ठहरने की बातें सामने आईं। इन घटनाओं के बारे में जब आईपीएल फ्रेंचाइजी से पूछा गया तो उनका कहना है कि सभी मामलों में जानकारी बीसीबीआई से साझा की जाती रही हैं और प्रॉटोकॉल का पालन हो यह भी सुनिश्चित किया गया।  

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine



और भी पढ़ें :