Widgets Magazine

H1B वीजा संबंधी आदेश पर ट्रंप के हस्ताक्षर, क्या होगा भारतीयों पर असर...

वाशिंगटन| Last Updated: बुधवार, 19 अप्रैल 2017 (08:06 IST)
वाशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रपति ने आज उस शासकीय आदेश पर हस्ताक्षर कर दिया जो H1B वीजा जारी करने की प्रक्रिया को कड़ा करेगा और प्रणाली की समीक्षा की मांग करेगा। इस वीजा की भारतीय आईटी फर्मों और पेशेवरों के बीच काफी मांग है। ट्रंप ने विस्कांसिन के केनोशा में इस शासकीय आदेश पर हस्ताक्षर किए।
अमेरिका में यह अधिक कुशलता आधारित और योग्यता आधारित आव्रजन प्रणाली बनाने की दिशा में एक पर्वितनकारी कदम है। ट्रंप के इस कदम में अब अधिक कुशल पेशेवर ही H1B प्राप्त कर सकेंगे।

इस शासकीय आदेश पर हस्ताक्षर किए जाने से एक ही दिन पहले अमेरिकी नागरिकता एवं आव्रजन सेवा ने घोषणा की थी कि उसने इस साल एक अक्तूबर से शुरू हो रहे वित्त वर्ष 2018 के लिए 65000 H1B के कांग्रेशनल आदेश के लिए उसे प्राप्त 1,99,000 याचिकाओं से कम्प्यूटरीकृत ड्रॉ पूरा कर लिया है।
ALSO READ:
जानिए क्या है H1B वीजा, क्यों परेशान हो रहे हैं भारतीय...
ट्रंप प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों के अनुसार ट्रंप 'बाई अमेरिकन एंड हायर अमेरिकन' आदेश का संघीय अनुबंधों में अमेरिकी उत्पादों की खरीद को बढ़ाने के लिए सरकारी खरीद प्रैक्टिस में बदलाव के लिए भी उपयोग करेंगे।


भारतीयों का दबदबा : अमेरिका उच्च कौशल प्राप्त कर्मियों को अपने यहां काम करने का मौका देने के लिए सालाना 85 हजार एच-1बी वीजा जारी करता है। यह पूरी दुनिया के लिए होता है, लेकिन इसमें भारतीयों का दबदबा है। इसका 60 प्रतिशत से अधिक भारतीयों को मिलता है। इसका कारण उनकी कुशलता और अपेक्षाकृत कम वेतन पर काम करना है। आंकड़ों के अनुसार एच-1बी वीजाधारक भारतीय कर्मियों की शुरुआती वेतन 65 से 70 हजार डॉलर सालाना के बीच होती है। वहीं पांच साल का अनुभव रखने वाले कर्मियों को 90 हजार से 1.1 लाख डॉलर तक की राशि मिलती है।

2015 यूएसआईसीए रिपोर्ट के मुताबिक कंप्यूटर क्षेत्र 86.5 फीसदी भारतीयों को, 5.1 फीसदी चीनी नागरिकों को
0.8 फीसदी कनाडा निवासियों को, 7.6 फीसदी अन्य देशों के नागरिकों को एच 1 बी वीजा मिलता है, वहीं अगर इंजीनियरिंग क्षेत्र की बात करें तो यहां 46.5 फीसदी भारतीय, 19.3 फीसदी चीनी, 3.4 फीसदी कनाडाई, 30.8 फीसदी अन्य एच 1 बी वीजा मिला है।

भारत क्यों हैं चिंतित : अमेरिकी श्रम मंत्रालय के मुताबिक बीते साल इस वीजा के लिए आवदेन करने वाली कंपनियों में विप्रो, इंफोसिस और टीसीएस का नंबर क्रमश: पांचवां, सातवां और दसवां था। साथ ही इन्हीं कंपनियों को सबसे ज्यादा एच-1बी वीजा की मंजूरी मिली थी। एक रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका में इंफोसिस के कुल कर्मचारियों में 60 फीसदी से ज्यादा एच 1बी वीजा धारक हैं। इसके अलावा वाशिंगटन और न्यूयॉर्क में एच-1बी वीजा धारकों में करीब 70 प्रतिशत भारतीय हैं।
आंकड़ों से स्पष्ट हो जाता है कि यदि अमेरिका में एच-1बी वीजा दिए जाने के नियमों में कोई बदलाव किया गया तो इससे सबसे ज्यादा भारतीय इंजीनियर और भारतीय कंपनियां प्रभावित होंगी। साथ ही इसका बुरा प्रभाव भारतीय अर्थव्यवस्था पर भी पड़ेगा। भारतीय जीडीपी में भारतीय आईटी कंपनियों का योगदान 9.5 प्रतिशत के करीब है और इन कंपनियों पर पड़ने वाला कोई भी फर्क सीधे तौर पर अर्थव्यवस्था को प्रभावित करेगा।


Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :

कठुआ गैंगरेप मामला, पीड़िता की वकील को भी रेप का डर

कठुआ गैंगरेप मामला, पीड़िता की वकील को भी रेप का डर
जम्मू। बहुचर्चित रसाना मामले में नए मोड़ आ रहे हैं। अगर जम्मू की जनता मामले की जांच सीबीआई ...

टीवी के जरिए होगी आप पर सरकार की नजर

टीवी के जरिए होगी आप पर सरकार की नजर
नई दिल्ली। सरकार की नजर अब लोगों के टीवी सेट पर भी पहुंचने वाली है। सूचना व प्रसारण ...

नहीं रखने चाहिए बच्चों के ये नाम, वर्ना पछताएंगे

नहीं रखने चाहिए बच्चों के ये नाम, वर्ना पछताएंगे
हिंदुओं में वर्तमान में यह प्रचलन बढ़ने लगा है कि वे अपने बच्चों के नाम कुछ हटकर रखने लगे ...

इन पांच वज़हों से होते हैं बलात्कार

इन पांच वज़हों से होते हैं बलात्कार
जम्मू के कठुआ में आठ साल की बच्ची आसिफा के बलात्कार के बाद नृशंस हत्या से पूरा भारत ...

3 बड़ी बीमारियों का इलाज है लौकी के छिलके

3 बड़ी बीमारियों का इलाज है लौकी के छिलके
लौकी ही नहीं उसका छिलका भी कुछ समस्याओं के लिए कारगर औषधि है। जानिए कौन सी 3 समस्याओं का ...

महंगा पड़ेगा हीरों का अवैध उत्खनन, लगेगा जुर्माना

महंगा पड़ेगा हीरों का अवैध उत्खनन, लगेगा जुर्माना
पन्ना। मध्यप्रदेश के पन्ना जिले में हीरा खदानों में अवैध रुप से उत्खनन करने वालों पर तीन ...

माता-पिता के पास सो रही थी मासूम, बलात्कार के बाद हत्या

माता-पिता के पास सो रही थी मासूम, बलात्कार के बाद हत्या
इंदौर। समाज को शर्मसार करने वाली वारदात में शुक्रवार तड़के यहां अपहरण और बलात्कार के बाद ...

हीथ स्ट्रीक बोले, क्रिकेट के इस फॉर्मेट से ऊब चुके हैं ...

हीथ स्ट्रीक बोले, क्रिकेट के इस फॉर्मेट से ऊब चुके हैं वेस्टइंडीज के खिलाड़ी
कोलकाता। जिम्बाब्वे के पूर्व कप्तान हीथ स्ट्रीक का मानना है कि दुनिया भर के टी 20 लीग ...

बड़ी खबर, उत्तर कोरिया अब नहीं करेगा परमाणु परीक्षण

बड़ी खबर, उत्तर कोरिया अब नहीं करेगा परमाणु परीक्षण
सोल। उत्तर कोरिया ने तत्काल प्रभाव से अपने परमाणु और मिसाइल परीक्षणों स्थगित करने का ...

वॉटसन का शतक, चेन्नई की रॉयल्स पर बड़ी जीत

वॉटसन का शतक, चेन्नई की रॉयल्स पर बड़ी जीत
पुणे। शेन वॉटसन ने शुरू में मिले दो जीवनदान का पूरा फायदा उठाकर आज यहां अपने टी20 करियर ...

वीवो का धमाकेदार सेल्फी फोन वीवो वी 9, ये हैं फीचर्स

वीवो का धमाकेदार सेल्फी फोन वीवो वी 9, ये हैं फीचर्स
चीनी स्मार्टफोन निर्माता कंपनी वीवो ने पिछले महीने भारत में अपना नया सेल्फी स्मार्टफोन ...

सस्ते Nokia 1 के साथ जियो का कैश बैक ऑफर

सस्ते Nokia 1 के साथ जियो का कैश बैक ऑफर
एचएमडी ग्लोबल ने एंड्राइड गो एडिशन के स्मार्टफोन्स के पहले बैच में Nokia 1 फोन को भारत ...

Xiaomi Redmi 5, सस्ता फोन, दमदार फीचर्स

Xiaomi Redmi 5, सस्ता फोन, दमदार फीचर्स
चीनी मोबाइल कपंनी ने भारतीय बाजार में एक और किफायती फोन लांच किया है। नए रेडमी 5 की कीमत ...

दो रियर कैमरों वाला सस्ता स्मार्ट फोन, जानिए फीचर्स

दो रियर कैमरों वाला सस्ता स्मार्ट फोन, जानिए फीचर्स
भारतीय कंपनी स्वाइट टेक्नोलॉजीज ने एक नया स्मार्टफोन लांच किया है। Swipe Elite Dual नाम ...

भारत में इस तारीख से मिलेंगे सैमसंग गैलेक्सी एस 9, एस9 ...

भारत में इस तारीख से मिलेंगे सैमसंग गैलेक्सी एस 9, एस9 प्लस, ये रहेगी कीमत
दिग्गज स्मार्टफोन निर्माता कंपनी सैमसंग ने देश में महंगे स्मार्टफोन खंड में अपनी स्थिति ...