चौथी नजर में होता है प्यार

पुनः संशोधित शुक्रवार, 1 दिसंबर 2017 (17:05 IST)

न्यू यॉर्क। साइंस का मानना है कि पहली नजर में नहीं बल्कि चौथी नजर में होता है। रिसर्च में यह बात भी सामने आई है कि पहली मुलाकात में कोई किसी को दिल नहीं दे सकता, हो सकता है कि लोग एक-दूसरे के प्रति आकर्षित हो जाएं लेकिन प्यार तब तक नहीं होगा, जब तक वे कई बार नहीं मिल लेंगे।
यह रिसर्च न्यूयॉर्क के हेमिल्टन कॉलेज के वैज्ञानिक रवि थिरुचसेलवम ने अपनी टीम के साथ मिलकर की है। रिसर्च में उन्होंने कई जवान महिलाओं और पुरुषों को शामिल किया है। इसके बाद उन्होंने दोनों को एक-दूसरे की तस्वीरें दिखाई और इस पर उनकी प्रतिक्रिया को नोट किया।

उन्होंने लोगों के दिमाग को वायर के जरिए मॉनिटर से कनेक्ट किया और उनके भावों को जाना। इनमें ज्यादातर को चौथी स्टेज में यानी चौथी बार में फोटो देखने के बाद ज्यादा खुशी हुई। एक ही फोटो को चौथी बार देखने पर ज्यादातर महिला और पुरुषों में आकर्षण के भाव पढ़े गए। इसलिए पहली नजर में प्यार की बात बिल्कुल गलत है।

Widgets Magazine

सम्बंधित जानकारी

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :