पाकिस्तान में कैद कुलभूषण जाधव का 'दुश्मन' कभी भारत का वकील था...

पुनः संशोधित शनिवार, 20 मई 2017 (15:22 IST)
Widgets Magazine
भारतीय नौसेना के पूर्व अधिकारी को फांसी दिलवाने के लिए पुरजोर कोशिश करने वाला पाकिस्तानी अंतरराष्ट्रीय कोर्ट यानव आईसीजे में का वकील हुआ करता था। खावर कुरैशी नामक पाकिस्तानी वकील को कांग्रेस की अगुवाई वाली यूपीए सरकार के दौरान साल 2004 में एनरॉन मामले में भारत का वकील बनाया गया था। इस मामले में भाजपा ने कांग्रेस को आड़े हाथों लिया है। 
 
भाजपा नेता जीवीएल नरसिंहा राव ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस को मेड इन पाकिस्तानी वकील ही पसंद हैं। कांग्रेस के नेता पाकिस्तान जाकर पाकिस्तानी नेताओं का गुणगान करते हैं। उन्होंने कहा कि मणिशंकर अय्यर ने तो मोदी को हटाने के लिए पाकिस्तान से मदद मांगी थी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को इस मामले में जवाब देना चाहिए कि इतने महत्वपूर्ण मामले में पाकिस्तानी वकील कुरैशी को क्यों नियुक्त किया गया और क्यों उन पर भरोसा किया गया। भाजपा नेता ने पूछा कि ऐसी क्या मजबूरी थी कि एनरॉन जैसे महत्वपूर्ण मामले में पाकिस्तानी वकील नियक्त किया या फिा जानबूझकर ऐसा किया गया। साल्वे की भारत समेत पुरी दुनिया में वाहवाही हो रही है। 
 
कौन है खावर कुरैशी : कुरैशी लंदन में रहते हैं और पाकिस्तानी हैं। 2004 में कुरैशी ने भारत की तरफ से अंराष्ट्रीय कोर्ट में एनरॉन मुद्दे पर केस लड़ा था। तब भारत की हार हुई थी। अब कुलभूषण मामले में कुरैशी ने आईसीजे में पाकिस्तान का पक्ष रखा है, जिसके लिए उन्हें 5 करोड़ रुपए की फीस दी गई है। दूसरी ओर भारत सरकार की ओर से नियुक्त वकील हरीश साल्वे ने मात्र एक रुपए फीस ली है। साथ ही वे कांग्रेस नेता एनकेपी सालवे के पुत्र हैं। सालवे ने अंतरराष्ट्रीय कोर्ट में भारत का पक्ष रखा था। इस मामले में पाकिस्तान को आईसीजे में करारी शिकस्त मिली थी। 
Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।