पाकिस्तान में लापता मौलवी मिले, दिल्ली लौटे

Last Updated: सोमवार, 20 मार्च 2017 (11:25 IST)
इस्लामाबाद। पाकिस्तान के लाहौर से लापता हो गए दिल्ली की हजरत निजामुद्दीन औलिया दरगाह के मुख्य खादिम आसिफ अली निजामी और उनके भतीजे नजीम अली निजामी का पता चल गया है और वे आज दिल्ली लौट आए। 
विदेश मंत्री ने ट्वीट करके यह जानकारी दी है कि पाकिस्तानी पीएम के विदेश सलाहकार सरताज अजीज से बातचीत के बाद दोनों को रिहा कर दिया गया है। इससे पहले पाकिस्तानी मीडिया और न्यूज एजेंसी पीटीआई ने खुलासा किया था कि पाक खुफ़िया एजेंसी आईएसआई ने दोनों को हिरासत में लिया हुआ था। हालांकि इस बारे में स्थिति अभी स्पष्ट नहीं है। इस बारे में भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भी पाकिस्तानी अधिकारियों से बातचीत की थी। पाकिस्तानी मीडिया की माने तो आईएसआई ने इन दोनों को गैर कानूनी तरीके से पाकिस्तान आने की वजह से हिरासत में लिया है।
 
गौरतलब है कि निजामुद्दीन दरगाह के मुख्य खादिम आसिफ अली निजामी और उनके भतीजे नजीम अली निजामी लाहौर एयरपोर्ट से गुरुवार से लापता हो गए थे। आसिफ निजामी और नजीम निजामी लाहौर की दाता दरबार दरगाह पर गए थे। उन्हें बुधवार को वहां से लौटने के लिए कराची की फ्लाइट में बैठना था लेकिन लाहौर एयरपोर्ट पर अधूरे ट्रैवल डॉक्युमेंट्स होने का हवाला देकर उन्हें रोका गया था। खादिम लाहौर एयरपोर्ट से जबकि दूसरे मौलवी कराची एयरपोर्ट से लापता हो गए थे।
 
आसिफ अली के बेटे साजिद निजामी के मुताबिक आसिफ निजामी कराची हवाई अड्डे से लापता हो गए, जबकि नाजिम निजामी समेत उनके साथ सफर कर रहे कुछ अन्य लोगों को लाहौर में हिरासत में ले लिया गया है। उनके परिवार ने बताया कि हमारे पास खबर है कि वो कराची में हैं लेकिन उन्हें एयरपोर्ट से बाहर नहीं आने दिया जा रहा है।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :