महाभारत के अर्जुन का स्मारक इंडोनेशिया में

जकार्ता| Last Updated: बुधवार, 30 मई 2018 (13:01 IST)
जकार्ता। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने
बुधवार को इंडोनेशिया के राष्ट्रपति जोको विडोडो के साथ राजधानी जकार्ता में स्थित प्रतिष्ठित का दौरा किया।
मोदी का यह दौरा दक्षिण-पूर्वी एशियाई देश के साथ गहरे सभ्यतामूलक संबंधों की दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है।
उल्लेखनीय है कि इंडोनेशिया दुनिया का सबसे अधिक मुस्लिम आबादी वाला देश है। सिंगापुर के पूर्व राजनयिक किशोर माहबुबानी ने बताया कि इंडोनेशिया के पूर्व राष्ट्रपति सुहार्तो राजधानी जकार्ता में एक भव्य स्मारक बनवाना चाहते थे। उन्होंने 1987 में अर्जुन विजय नामक स्मारक बनाने का निर्णय लिया। जिसके तहत के दृश्य को दर्शाने वाली विशाल प्रतिमा का निर्माण किया गया।

इससे पहले मोदी ने इंडोनेशिया दौरे पर रवानगी से पूर्व अपने वक्तव्य में कहा था कि भारत एवं इंडोनेशिया के मज़बूत मैत्रीपूर्ण संबंध हैं और दोनों के बीच गहरे ऐतिहासिक एवं सभ्यतागत संपर्क रहे हैं। दोनों देश बहुजातीय, बहुधर्मी, बहुलतावादी और खुले समाज हैं। उन्हें विश्वास है कि उनकी इस यात्रा से एशिया के इन दो लोकतांत्रिक देशों के बीच संबंध और बेहतर होंगे। (वार्ता)


और भी पढ़ें :