Widgets Magazine

जानिए, भारत विभाजन के 10 बड़े कारण

WD|
भारत के हिंदू और मुसलमान एक ही इतिहास के प्रति अलग-अलग दृष्टिकोण रखते हैं। ऐसे हिंदू विरले हैं जो एक मुसलमान शासक को या इतिहास-पुरुष को अपने पुरखे के रूप में स्वीकार करें। यही बात मुसलमानों पर भी लागू होती है।

बहुत कम ऐसे मुसलमान हैं जो किसी हिंदू इतिहास पुरुष को अपना आदर्श मानता हो। धर्म और इतिहास की व्याख्या करने वाले लोगों ने भी इसमें अपनी बड़ी भूमिका निभाई है। धार्मिक तौर पर हिंदू और मु‍सलमानों को कभी एक स्तर पर लाने का प्रयास नहीं किया।

इतिहासकारों ने भी हिंदूओं ओर मिस्लिमों को लेकर इतिहास में कुछ ऐसी व्याख्या की है जिसने दिलों को ही नहीं बांटा बल्कि देश को भी बांट दिया। ऐसे शोधकर्ताओं की भी कमी नही है जिन्होंने सभी मुस्लिम शासकों और आक्रमणकारियों की सूची एक साथ इतिहास के पन्ने पर लिख दी है।

धर्म और इतिहास के घटकों पर अगर हम गंभीरता से विचार करें तो हम ये पाएंगे कि यह आदमी के दिल और दिमाग को कड़वा बना देता है। प्रयास इस बात की करनी चाहिए कि दूसरे के धर्म के प्रति आदर और समझ-बूझ पैदा हो।

भारत विभाजन के लिए सिर्फ ये दस गुना ही काफी नहीं है। यह तो सिर्फ एक बानगी भर है। जो आपको भी इतिहास के पन्नों में झांकने को मजबूर करेगा। ऐसी और भी बहुत सी वजहें इतिहास के पन्ने में दर्ज हो चुकी हैं लेकिन कोई पन्ने नहीं पलट कर देखता है।


Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine