जानिए, भारत विभाजन के 10 बड़े कारण

WD|
हिन्दू से मुसलमान के अलगाव का सिलसिला आजादी के बरसों में भी चलता रहा। आजादी के बरसों में भी मुसलमान को हिन्दू के नजदीक लाने के लिए, उनके मन से अलगाव के बीज खत्म करने के लिए कुछ भी नहीं किया गया।

कांग्रेस सरकार का एक अक्षम्य अपराध यह है कि वह इन विलग आत्माओं को नजदीक लाने में असफल रही। वास्तव में, इसके लिए प्रयास करने की उसकी इच्छा ही नहीं रही। इस अपराध के पीधे भावना रही है वोट प्राप्ती की इच्छा। देश के लगभग सभी राजनीतिक दल विशेषकर वे जो धर्मनिरपेक्षता का दंभ भरते हैं, इसके शिकार रहे। वे यह मानकर चल रहे थे कि उद्योगीकरण और आधुनिक अर्थव्यवस्था से हिन्दू-मुस्लिम के बीच का अलगाव खत्म हो जाएगा।

धर्म और इतिहास की सही व्याख्या का न करना...


वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :