गुड़ी पड़वा पर क्यों खाते हैं नीम? जानें 5 कारण


गुड़ी पड़वा यानि चैत्र शुक्ल प्रतिपदा, जिसे हिंदू नववर्ष का आरंभ माना जाता है। हिंदू पंचांग के अनुसार गुड़ी पड़वा नए साल का पहला दिन होता है, और इसे हिंदू पर्व के रूप में मनाया जाता है। इस दिन विशेष तौर पर की दातुन एवं नीम की पत्तियां खाने का विधान है। जानिए, क्यों खाते हैं आखिर इस दिन नीम...

1 गुड़ी पड़वा के दिन नीम का रसपान किया जाता है। मंदिर में दर्शन करने वाले को नीम और शक्कर प्रसाद के रूप में मिलता है।
जानिए गुड़ी पड़वा का पौराणिक महत्व

2 नीम कड़ुवा है, लेकिन आरोग्य-प्रद है। प्रारंभ में कष्ट देकर बाद में कल्याण करने वालों में से यह एक है। नीम का सेवन करने वाला सदा निरोगी रहता है।

गुड़ी पड़वा पर हिन्दी निबंध

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine



और भी पढ़ें :