महेश शर्मा- जो लोगों से लिया वह लौटाना चाहता हूं...

-जयदीप कर्णिक

WD|
WD
लखनऊ। गौतम बुद्ध नगर (नोएडा) से भाजपा प्रत्याशी डॉ. महेश शर्मा कहते हैं जो लोगों ने मुझे दिया है अब वह मैं उन्हें लौटाना चाहता है और यह सिर्फ चिकित्सा के माध्यम से नहीं हो सकता। इसके लिए बड़े प्लेटफार्म की जरूरत होती है और इसके लिए राजनीति से अच्छा और कुछ नहीं हो सकता।

पेशे से चिकित्सक डॉ. शर्मा बताते हैं कि मैं 55 वर्ष का हूं। आज से 32 वर्ष पूर्व नोएडा में आया था। 28 साल मैंने अपने प्रोफेशन का मजा लिया। मुझे दौलत और शोहरत सब कुछ मिला है। लेकिन, जो लोगों ने मुझे दिया, अब मैं उसे वापस करना चाहता हूं। सोसायटी के लिए कुछ करने के लिए बड़े प्‍लेटफॉर्म की जरूरत होती है और वह राजनीति के रूप में मिल पाएगा।
विस्तृत इंटरव्यू के लिए वीडियो पर क्लिक करें...


राष्‍ट्रीय नेतृत्‍व में से ही विरोध की आवाजें भी सुनाई दे रही हैं। डॉ. मुरलीमनोहर जोशी कह रहे हैं, कि भाजपा की लहर है मोदी की नहीं और देश में गुजरात का मॉडल नहीं चलेगा? वे इस मामले में पार्टी का बचाव करते हुए प्रतिप्रश्न करते हैं कि क्‍या आप मानते हैं कि किसी मुद्दे पर पार्लियामेंट के सभी 545 सदस्‍य एक हो जाएंगे।
आडवाणी और जसवंतसिंह को दरकिनार करने के प्रश्न पर शर्मा कहते हैं कि आप इसे दरकिनार करना क्‍यों कहते हैं। वे उम्रदराज नेता हैं। कभी ना कभी तो उनका रिटायरमेंट होना ही है। उम्रदराज हो चुके हैं, उनकी जगह किसी नए व्‍यक्‍ति को मौका मिलना चाहिए और यह भी पार्टी की आपसी सहमति से किया गया। यह पार्टी की सोची-समझी नीति के तहत है। पिछली बार आडवाणीजी को प्रोजेक्‍ट किया गया था।


और भी पढ़ें :