बनारस में चौरसिया छोड़ेंगे मैदान!

-वाराणसी से जयदीप कर्णिक

WD|
PR
क्या वाराणसी लोकसभा सीट पर समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार कैलाश चौरसिया मैदान छोड़ने जा रह हैं? अगर सूत्रों की बात को सही मानें तो नरेन्द्र मोदी को काशी में घेरने की मुहिम के तहत चौरसिया अपनी उम्मीदवारी वापस ले सकते हैं।

में इस तरह चर्चा जोरों पर है कि चौरसिया ने मैदान छोड़ने का मन बना लिया है। इसके पीछे पार्टी का दबाव भी माना जा रहा है। मुलायमसिंह यादव भी नहीं चाहते हैं कि मोदी विरोधी वोट बटें। इसीलिए संभावना जताई जा रही है समाजवादी पार्टी यहां से कांग्रेस उम्मीदवार को समर्थन दे सकती है।
चौरसिया के मैदान छोड़ने की चर्चा को इस बात से बल मिलता है कि जिस प्रिंटिंग प्रेस में उनकी प्रचार सामग्री की छपाई करवाई जा रही है, वहां इस पर अगले निर्देश तक रोक लगा दी गई। सिर्फ शुरुआती दौर में बहुत मामूली पोस्टर और बैनरों की छपाई करवाई गई थी।

यदि इस बात में दम है तो यह मोदी के लिए मुश्किल का सबब बन सकता है क्योंकि ऐसा होता है तो मोदी विरोधी वोट अजय राय को मिल सकते हैं, जो कि पिछले चुनाव में तीसरे नंबर पर रहे थे। सपा इसलिए भी राय को समर्थन दे सकती है क्योंकि वे पहले समाजवादी पार्टी में ही थे। इसमें बात में इसलिए भी आश्चर्य नहीं होना चाहिए क्योंकि कांग्रेस ने अमेठी और रायबरेली में राहुल और सोनिया गांधी के खिलाफ भी उम्मीदवार नहीं उतारे हैं।


और भी पढ़ें :