FIFA WC 2018 : कोच व खिलाड़ियों को भरोसा, फाइनल में फ्रांस को हराएगा क्रोएशिया

पुनः संशोधित गुरुवार, 12 जुलाई 2018 (17:10 IST)
मॉस्को। इंग्लैंड के खिलाफ पिछड़ने के बाद जीत दर्ज करते हुए फीफा विश्वकप फाइनल में प्रवेश करने वाली क्रोएशियाई टीम के कोच ज्लाटको डालिस और उसके खिलाड़ियों ने फाइनल में फ्रांस के खिलाफ इसी लय को दोहराने और खिताब जीतने का भरोसा जताया है। क्रोएशिया और फ्रांस के बीच रविवार को मॉस्को के लुजनिकी स्टेडियम में फाइनल मुकाबला खेला जाना है।

क्रोएशियाई टीम ने इंग्लैंड को बुधवार रात को अतिरिक्त समय में विश्वकप सेमीफाइनल में 2-1 से हराते हुए पहली बार फीफा विश्वकप फाइनल में प्रवेश किया था। मैन ऑफ द मैच रहे इवान पेरिसिक ने मैच के बाद कहा, हमारे लिए यह मुश्किल मैच था। इंग्लैंड के किरान ट्रिपियर के पांचवें मिनट में किए गए गोल के बाद पेरिसिक ने बराबरी का गोल दागते हुए क्रोएशिया को मैच में वापसी कराई थी।

इसके बाद क्रोएशिया के मारियो मांडजुकिक ने 109में मिनट में विजयी गोल करते हुए टीम को जीत दिलाई थी। पेरिसिक ने कहा हम जानते थे कि इस मैच में बहुत कुछ दांव पर लगा है और हमारे छोटे से देश क्रोएशिया के लिए यह जीत कितनी अहम है। हमने धीमी शुरूआत की थी लेकिन बाद में अपना आक्रामक खेल दिखाते हुए वापसी कर ली।

हम इससे पहले भी नॉकआउट राउंड में पिछड़ने के बाद वापसी कर चुके हैं और हमने दोबारा ऐसा किया। क्रोएशिया इससे पहले अंतिम-16 मैच में भी डेनमार्क के खिलाफ और रूस के खिलाफ भी अतिरिक्त समय में मैच खींचा तथा क्रमश: पेनल्टी शूटआउट में जीत अपने नाम कर ली। इस जीत के साथ ही क्रोएशिया ने 1998 विश्वकप में अंतिम-चार में फ्रांस से हारने के बाद अपने पिछले सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन से एक कदम आगे बढ़ाते हुए फाइनल में जगह बना ली है।

पेरिसिक ने कहा 20 वर्ष पूर्व मैं अपने घर पर था और क्रोएशिया की जर्सी पहने हुए टीम के लिए चीयर कर रहा था। मैं केवल अपने देश के लिए खेलने का सपना ही देख सकता था लेकिन मैंने फाइनल में पहुंचने के लिए एक अहम गोल भी किया जो मेरे लिए बहुत खास है।

क्रोएशियाई कोच डालिस ने अतिरिक्त समय में टीम को मिली सफलता के लिए खिलाड़ियों को श्रेय दिया लेकिन साथ ही कहा कि टीम का काम अभी खत्म नहीं हुआ है। उन्होंने कहा हम फाइनल में पहुंचने के हकदार थे, हमारे खिलाड़ियों ने जो किया वह सपने जैसी बात है, इन्होंने इतिहास बना दिया है, हम अब विश्व चैंपियन बनेंगे। (वार्ता)


और भी पढ़ें :