फाइनल के दोनों कप्तानों ने इन 3 खिलाड़ियों को विश्वकप 19 में नहीं दिया 1 भी मौका

पुनः संशोधित रविवार, 14 जुलाई 2019 (11:29 IST)
आज रविवार को क्रिकेट को एक नया विश्व चैम्पियन मिलेगा। क्रिकेट का जनक और हमेशा 'अंडरडॉग' मानी जाने वाली के बीच मुकाबला होगा।दोनों ही टीम के खिलाड़ियों ने टूर्नामेंट में बेहतरीन प्रदर्शन कर फाइनल तक का सफर किया है। सेमीफाइनल में दोनों ही टीमों ने प्वाइंट्स टेबल पर अपने से बेहतर टीम को मात दी है।
इन सबके बीच नजर डालते हैं उन 3 खिलाड़ियों पर जो सिर्फ बैंच पर बैठे रह गए। दोनों ही टीमों ने इन खिलाड़ियों को मैदान पर उतरने का एक भी मौका नहीं दिया। फाइनल में भी मैदान पर उतरने की इनकी उम्मीद न के बराबर है क्योंकि कोई भी टीम विजयी टीम में फेरबदल नहीं करना चाहेगी।
 
1- टॉम करन  (इंग्लैंड)
इंग्लैंड के लिए 17 मैचों में 27 विकेट ले चुके बैंच पर बैठे रह गए और कप्तान इयॉन मोर्गन ने इन्हें एक भी मौका नहीं दिया।
 
2 - (न्यूजीलैंड) 
न्यूजीलैंड के विकेटकीपर टॉम बंडेल की चाहत थी कि वह इस विश्वकप से ही अपने वनडे करियर की शुरुआत करें , लेकिन कप्तान केन विलियम्सन की प्राथमिकता हमेशा टॉम लेथम रहे।
 
3- (इंग्लैंड) 
इंग्लैंड की तरफ से 3 मैच खेल चुके लियाम डॉसन  भी विश्वकप 19 में मैदान पर उतरने के लिए तरसते रह गए।

 

और भी पढ़ें :