प्रियंका तनेजा कैसे बनी हनीप्रीत, पढ़ें पूरी कहानी...

Indore| अतुल शर्मा| Last Updated: बुधवार, 20 सितम्बर 2017 (19:32 IST)
गुरमीत को सज़ा हो चुकी है, लेकिन उसके और भी कारनामे हैं, जिनकी जांच चल रही है। हनीप्रीत उसकी
कथित दत्तक पुत्री तथा करीबी सहयोगी रही है और फिलहाल फरार है। पुलिस को हनीप्रीत की तलाश में लगातार
छापेमारी जारी है। हनी के बारे में कुछ बातें ऐसी हैं, जिन्हें जानकर आप चौकं जाएंगे। जानिए हनीप्रीत की पूरी कहानी...

हनीप्रीत का असली नाम प्रियंका तनेजा है। इसकी कहानी किसी रहस्य से कम नहीं है। हरियाणा में फतेहाबाद के
जगजीवनपुरा की रहने वाली प्रियंका ने अपनी पढ़ाई फतेहाबाद के डीएवी स्कूल से की। घर के लोग प्यार से उसे अनु भी कहते थे। उसके परिवार में माता-पिता के अलावा एक भाई और एक बहन भी है। उसके पिता रामानंद का नेशनल हाईवे
पर टायर का शोरूम था। ऐसा कहा जाता है कि प्रियंका को हनीप्रीत नाम मुंहबोले पिता गुरमीत राम रहीम से ही मिला
था।

सगाई में पहुंचा था राम रहीम : ऐसा कहा जाता है कि हनीप्रीत का परिवार काफी पहले से ही डेरे से जुड़ा था। उसके
दादा डेरे के प्रशासक के तौर पर काम देखते थे और लंबे समय से वहां के अनुयायी भी थे। जिस वक्त हनीप्रीत की फतेहाबाद स्थित उसके घर में सगाई हुई थी, उस समय भी वहां राम रहीम आशीर्वाद देने पहुंचा था। 1998 में राम
रहीम की पहल पर हनीप्रीत का विवाह पंचकुला निवासी विकास गुप्ता के साथ डेरे में हुआ था।

कुछ साल तक साथ रहने के बाद दोनों में विवाद हो गया और अलग रहने लगे। जानकारी के मुताबिक विवाद का कारण
विकास ने राम रहीम को हनीप्रीत के साथ आपत्तिजनक हालात में देख लिया था। 9 साल के अंदर ही उनका तलाक हो गया। तलाक के बाद प्रियंका को राम रहीम ने गोद ले लिया और उसे हनीप्रीत इंसां बना दिया।

राम रहीम के साथ फिल्मों में काम : तलाक के बाद हनीप्रीत गुरमीत राम रहीम के साथ साए की तरह रहने लगी।
पिछले सालों में आई गुरमीत राम रहीम की फिल्मों में हनीप्रीत का खास योगदान रहा है। फिल्मों में वह राम रहीम के
साथ सह-निर्देशक एवं सह-निर्माता तो बनी ही बतौर अभिनेत्री के रूप में भी अपनी भूमिका निभाई। हनीप्रीत का सपना था कि वह बड़े-बड़े फिल्म अदाकारों के साथ भी काम करे। उसे बॉलीवुड गानों पर डांस करने का भी शौक था और वह
देर तक इन गानों पर डांस करती थी। हनीप्रीत अपने आप को फिट रखने के लिए जिम में व्यायाम भी करती थी।

हनीप्रीत का शाही परिवार : गुरमीत राम रहीम के हनीप्रीत को गोद लेने का बाद उसका पूरा परिवार राम रहीम के शाही
परिवार का हिस्सा बन गए। उसके पिता रामनंद डेरा परिसर में सीड्स प्लांट चलाते हैं। छोटी बहन निशा की शादी फतेहाबद निवासी संजू बजाज से हुई है। संजू गुरुग्राम में बिजनेस करते हैं। भाई साहिल पिता के साथ कामकाज में हाथ
बंटाता है।

डेरे में हनीप्रीत का साम्राज्य : हनीप्रीत के बारे में ऐसा कहा जाता है कि वह न सिर्फ गुरमीत राम रहीम की सबसे
ज्यादा करीबी थी, बल्कि उसका रुतबा किसी भी मायने में गुरमीत से कम नहीं था। उसके इशारों पर डेरे का पूरा
साम्राज्य चलता था। डेरे में उसकी हुकूमत एक महारानी की तरह चलती थी।
-प्रस्तुति : अतुल शर्मा


और भी पढ़ें :