योगी आदित्यनाथ ने किस मुहूर्त में किया ग्रहप्रवेश, पढ़ें असर...

ने सीएम हाउस में बुधवार, को में प्रवेश किया। लग्न का स्वामी बुध एकादश भाव में सुखेश होकर चन्द्र राशि स्वामी मंगल के साथ है अत: लग्न प्रभावशाली बन गया है। इसका शुभ प्रभाव यह होगा कि मुख्यमंत्री के रूप में आदित्यनाथ के कार्य जनहित में ही अधिक होंगे।
एकादश भाव लाभ का होता है अत: जनमानस के लाभ की बातें होंगी। चतुर्थ भाव जनता का होता है। उस भाव में गुरु होने से सभी के साथ समभाव रहेगा। जनहित के कार्यों की संख्या बढ़ेगी। गुरु की दृष्टि सप्तम यानी राज्यभाव में है अत: राजधर्म सुचारु रूप से चलेगा।

दशम भाव में सूर्य मित्र व शुक्र उच्च का होने से जनता के हित में खर्च अधिक होगा। पंचम यानी युवा वर्ग व विद्यार्थी भाव का स्वामी उच्च का होने से विद्यार्थियों को नौकरी का लाभ मिलेगा। बेरोजगारी पर लगाम लगेगी व रोजगार के अवसर बढ़ेंगे।

तृतीय भाव में सिंह का राहु होने से प्रशासन सख्त होगा। शनि की भाग्य पर दृष्टि पड़ने से उत्तरप्रदेश भाग्यशाली बनेगा। जिस प्रकार मोदी 10 साल तक प्रधानमंत्री रहेंगे, ठीक उसी प्रकार योगी आदित्यनाथ भी यूपी में 10 साल राज करेंगे।



वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine

और भी पढ़ें :